Home राज्य अखिलेश बंगला विवाद: राज्यपाल ने योगी को लिखा पत्र, उचित कार्रवाई हो

अखिलेश बंगला विवाद: राज्यपाल ने योगी को लिखा पत्र, उचित कार्रवाई हो

0 19 views
Rate this post

लखनऊ

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा बंगला खाली करने से पहले हुई तोड़फोड़ के मामले में उचित कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने लिखा कि 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित आवास को खाली किए जाने से पहले उसमें की गई तोड़फोड़ का मामला मीडिया और जनमानस में चर्चा का विषय बना हुआ है। यह एक अनुचित और गंभीर मामला है।

राज्यपाल ने यह भी लिखा, ‘उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवंटित किए गए शासकीय आवास राज्य संपत्ति के कोटे में आते हैं, जिनका निर्माण और रख-रखाव सामान्य नागरिकों द्वारा दिए जानेवाले विभिन्न प्रकार के टैक्स से होता है। राज्य संपत्ति को क्षति पहुंचाए जाने के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा कानून के अनुसार, समुचित कार्रवाई की जानी चाहिए।’

राज्यपाल ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को राज्य सरकार द्वारा आवंटित आवासों को रिक्त किए जाने के प्रकरण का स्वतः संज्ञान लेते हुए मंगलवार को राज्य संपत्ति विभाग के अधिकारियों को बुलाकर जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवंटित आवासों की विडियोग्रफी कराई गई है और 4 विक्रमादित्य मार्ग स्थित सरकारी आवास में तोड़फोड़ होने की बात भी सामने आई है।

क्या है विवाद
शनिवार को जब अखिलेश यादव का 4, विक्रमादित्य मार्ग स्थित सरकारी बंगला खोला गया तो अंदर का हाल देखकर सभी दंग रह गए। कभी आलीशान महल की तरह दिखने वाला यह बंगला अंदर से तहस-नहस मिला। एसी, स्विच बोर्ड, बल्ब और वायरिंग तक गायब मिले। स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, स्विमिंग पूल और लॉन उजड़े हुए हैं। सीढ़ियां तोड़ दी गई हैं। साइकल ट्रैक भी खोद दिया गया है। बंगले में पहली मंजिल पर (जहां अखिलेश रहते थे) वहां बने सफेद संगमरमर के मंदिर के अलावा कोई हिस्सा ऐसा नहीं है, जहां तोड़फोड़ न की गई हो।

अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्री रहते हुए 4, विक्रमादित्य मार्ग पर यह बंगला बनवाया था। इसे सजाने के लिए राज्य सम्पत्ति विभाग ने दो किस्तों में 42 करोड़ रुपये जारी किए थे। मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद वह इसमें रहने लगे थे। अखिलेश ने दो जून को ही बंगला खाली कर दिया था लेकिन कुछ सामान रखा होने की बात कहकर तब चाबी राज्य सम्पत्ति विभाग को नहीं सौंपी थी। शुक्रवार रात अखिलेश और मुलायम सिंह यादव के बंगलों की चाबी राज्य संपत्ति विभाग को दे दी गई थी।

अखिलेश ने किया सामान वापस करने का वादा
बंगले में तोड़फोड़ को लेकर अखिलेश ने योगी सरकार को निशाने पर लिया था। शनिवार को अखिलेश ने कहा कि राज्य सरकार उन्हें टूटे-फूटे सामानों की लिस्ट मुहैया कराए, तो वह एक-एक सामान वापस कर देंगे। साथ ही अखिलेश ने कहा कि उनका जो सामान जैसे कि आंवला और कई महंगे पेड़ घर में छूट गए हैं, उसे सरकार उन्हें वापस करे।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....