Home राज्य आज PM मोदी को पुराने वादे याद दिलाएंगे चंद्रबाबू नायडू

आज PM मोदी को पुराने वादे याद दिलाएंगे चंद्रबाबू नायडू

0 27 views
Rate this post

तिरुपति

आंध्र प्रदेश को स्पेशल राज्य का दर्जा नहीं मिलने से नाराज़ मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू की तेलुगू देशम पार्टी (TDP) सोमवार से मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने जा रही है. टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू तिरुपति के श्री वेंकेटेश्वर यूनिवर्सिटी के तारकाराम स्टेडियम में आज जनसभा करने वाले हैं. इस दौरान वह आंध्र के लोगों को बताएंगे कि पीएम मोदी ने उन्हें कैसे धोखा दिया.

टीडीपी का कहना है कि तिरुपति रैली नरेंद्र मोदी और बीजेपी सरकार को उस रैली की याद दिलाएगा, जिसमें मोदी ने आंध्र के लोगों झूठे वादे किए थे. बता दें कि 30 अप्रैल 2014 को बीजेपी के प्रधानमंत्री उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश को न सिर्फ विशेष राज्य का दर्जा देने की बात कही थी, बल्कि इसका एक्सटेंशन 5 साल से बढ़ाकर 10 साल तक करने की पेशकश भी की थी.

उस दिन तिरुपति के श्री वेंकेटेश्वर यूनिवर्सिटी के तारकाराम स्टेडियम में मोदी ने जनसभा को संबोधित किया था. मोदी ने कहा था कि वो आंध्र प्रदेश में राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली से भी बड़ी राजधानी बनाने में पूरी मदद करेंगे. दरअसल, राज्य के लोगों की मर्जी के खिलाफ आंध्र के बंटवारे से उठे आक्रोश को कम करने के लिए ये ऐलान किए थे.

अब नायडू ने मोदी के खिलाफ बोलने के लिए वही तारीख, वही जगह और वही समय चुना है. 30 अप्रैल को उसी तारकाराम स्टेडियम में शाम पांच बजे चंद्रबाबू नायडू लोगों को बताएंगे कि मोदी कैसे ‘मित्र’ से ‘मित्रद्रोही’ बन गएय.

राज्य के सूचना और जनसंपर्क मंत्री कल्वा श्रीनिवासुलू ने News18 को बताया, “कल लोगों के सामने हमारे नेता मोदी को बेनकाब करेंगे. नायडू लोगों को उस दिन का वीडियो क्लिप दिखाएंगे, जिसमें मोदी ने आंध्र प्रदेश के लिए तमाम वादे किए थे. इन वादों को मोदी पूरी तरह से भूला चुके हैं. उन्होंने आंध्र में दिल्ली से बड़ी राजधानी विकसित करने का वादा किया था. मित्रद्रोही के लिए ये हमारी पार्टी के अभियान का पहला कदम है.”

30 अप्रैल की रैली में चंद्रबाबू नायडू टीडीपी कैडर को साफ निर्देश देंगे कि वो मित्रद्रोहियों को अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में सबक सिखाएं. उन्होंने टीडीपी कैडर से कहा, “आप हमें 25 लोकसभा सीटें दीजिए. फिर हम फैसला करेंगे कि देश का अगला पीएम कौन होगा.”

टीडीपी लीडर नायडू का मानना है कि मोदी ने पार्टी को मंझधार में छोड़ दिया, क्योंकि उन्हें वाईएसआर कांग्रेस से फायदा मिलता दिख रहा था. इसलिए उन्होंने वाईएस जगनमोहन रेड्डी से दोस्ती कर ली. वो जगनमोहन जिनके खिलाफ सीबीआई अघोषित संपत्ति के दर्जनों मामले की जांच कर रही है.

दोस्तों के साथ शेयर करे.....