Home फीचर उन्नाव गैंगरेप केस: विधायक पर नया आरोप, 2 लोग लापता

उन्नाव गैंगरेप केस: विधायक पर नया आरोप, 2 लोग लापता

0 46 views
Rate this post

लखनऊ

उन्नाव गैंगरेप केस में अब दो लोगों के गायब होने का दावा किया जा रहा है। बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर गैंगरेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता के चाचा ने कहा है कि MLA के गुंडे गांव में लोगों को धमका रहे हैं। पीड़िता के चाचा के मुताबिक विधायक के भाई अतुल सिंह जेल से ही अपने लोगों को गांववालों को धमकाने का निर्देश दे रहे हैं। गांववालों को मुंह खोलने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी जा रही है। उन्होंने दावा किया है कि गांव के दो लोग लापता भी हैं।

पीड़िता के चाचा ने बताया कि शनिवार को विधायक कुलदीप सिंह की गुंडे दो गाड़ियों से गांव पहुंचे थे। वहां उन्होंने गांववालों को धमकी दी। आपको बता दें कि उन्नाव गैंगरेप मामले में आरोपी बीजेपी विधायक सेंगर को पूछताछ के लिए सात दिन की रिमांड में भेजा गया है। एक स्थानीय अदालत ने सेंगर को 28 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में रखने का निर्देश दिया। उसके बाद उन्हें हिरासत में देने की CBI की अपील को मंजूरी दे दी।

सीबीआई ने सेंगर को रिमांड पर लेने की अर्जी में कहा कि चूंकि आरोपी विधायक सत्तारूढ़ दल का है लिहाजा उसके द्वारा मौखिक और दस्तावेजी सुबूतों को प्रभावित किए जाने की पूरी आशंका है। सीबीआई इस मामले में शशि सिंह नाम की एक महिला को भी गिरफ्तार किया है। इस महिला पर घटना के दिन पीड़िता को बीजेपी विधायक के पास ले जाने का आरोप है।

पीड़िता की मां ने उत्तर प्रदेश पुलिस को दी गई शिकायत में आरोप लगाया है कि महिला लालच देकर उसकी बेटी को विधायक के आवास पर ले गई। वहां बीजेपी विधायक ने उससे कथित बलात्कार किया। शिकायत में आरोप लगाया गया है कि जब विधायक उसकी बेटी से बलात्कार कर रहा था उस वक्त शशि सिंह गार्ड बनकर कमरे के बाहर खड़ी थी। पीड़िता की मां की शिकायत अब सीबीआई की प्राथमिकी का हिस्सा है।

उधर, विपक्ष इस मुद्दे को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमलावर बना हुआ है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि सीएम योगी आदित्यनाथ उन्नाव बलात्कार मामले में ‘असली दोषी’ हैं। पार्टी ने आदित्यनाथ को तत्काल हटाए जाने की मांग की। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान में इलाहाबाद हाई कोर्ट की टिप्पणी का हवाला दिया और आदित्यनाथ पर निशाना साधा। उन्होंने कहा , ‘उन्नाव में जिस युवती के साथ जून , 2017 में कथित तौर पर बलात्कार किया गया, जिसने मुख्यमंत्री की चौखट पर गुहार लगाई और यहां तक कि आत्मदाह का प्रयास किया उसके असली दोषी कोई और नहीं बल्कि मुख्यमंत्री अजय सिंह बिष्ट उर्फ आदित्यनाथ हैं।’

दोस्तों के साथ शेयर करे.....