Home राष्ट्रीय एक्सप्रेस-वेः ‘उद्घाटन में देरी की वजह PM नहीं’: NHAI

एक्सप्रेस-वेः ‘उद्घाटन में देरी की वजह PM नहीं’: NHAI

0 16 views
Rate this post

नोएडा

सुप्रीम कोर्ट ने पीएम नरेंद्र मोदी की व्यस्तता से अटके पड़े ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे को तय समय पर खोलने के जहां निर्देश दिए हैं वहीं एनएचएआई के अधिकारियों का कहना है कि इसमें देरी पीएम की व्यस्तता के कारण नहीं हो रही, बल्कि अभी प्रॉजेक्ट पर काम पूरा नहीं हुआ है। एनएचएआई के अधिकारियों ने बताया कि शाहदरा-सहारनपुर रेलवे लाइन के ओवरब्रिज निर्माण में अभी 10 दिन का काम बाकी है। उन्होंने बताया कि इससे जुड़े अन्य सभी कार्य अगले 15 दिन में पूरा कर लिए जाएंगे। इससे इस एक्सप्रेस-वे के 26 मई को खुलने की पूरी संभावना है।

सुप्रीम कोर्ट ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए इसे 31 मई तक हर हाल में पूरा करने के साथ ही एक जून से खोलने का आदेश दिया है। कोर्ट की फटकार के कारण एनएचएआई बैकफुट पर आ गई है। इधर, एनएचएआई के मुख्य महाप्रबंधक बी.एस.सिंगला ने बताया कि इस समय रेलवे ओवर ब्रिज पर काम अधूरा है। इस पर 24 घंटे काम चल रहा है। उन्होंने माना कि लगभग 99 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। उन्होंने यह भी कहा कि यह कार्य 418 दिन में पूरा किया गया है।

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे की खास बातें
नवंबर 2015 में पीएम नरेंद्र मोदी ने इस प्रॉजेक्ट का शिलान्यास किया था। फरवरी 16 में इस प्रॉजेक्ट पर काम शुरू हुआ। लगभग 11 हजार करोड़ की लागत से तैयार इस प्रॉजेक्ट में 6 हजार करोड़ रुपये किसानों को जमीन अधिग्रहण के रूप में दिए गए हैं। सड़क के निर्माण पर लगभग पांच हजार करोड़ के करीब खर्च हुए हैं। कुंडली से पलवल तक लगभग 135 किलोमीटर लंबे मार्ग पर सात इंटरचेंज हैं। छह रेस्ट स्पॉट हैं जिन्हें टूरिस्ट स्पॉट के रूप में डिवेलप किया जाएगा। इसमें मिट्टी की बजाय बिजली घर से निकलने वाली फ्लाइएश इस्तेमाल की गई है। इस एक्सप्रेस वे के दो पार्ट हैं। पहला पार्ट पलवल से गाजियाबाद तक 56 किलोमीटर, इसके बाद दूसरा पार्ट गाजियाबाद से सोनीपत तक 49 किलोमीटर का है। पूरे एक्सप्रेस वे पर सोलर से लाइटें जलेंगी। कुंडली से पलवल तक का सफर 70 मिनट में पूरा होगा। इस पर कार के लिए 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार मान्य होगी।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....