Home भोपाल/ म.प्र एमपी के 18 जिलों में छुट्टियों में भी दिया जा रहा है...

एमपी के 18 जिलों में छुट्टियों में भी दिया जा रहा है मिड-डे मील

0 34 views
Rate this post

भोपाल

ग्रीष्मकालीन अवकाश के बावजूद मध्य प्रदेश के सूखाग्रस्त 18 जिलों की शालाओं में लगभग 20 लाख बच्चों को मध्यान्ह भोजन दिया जा रहा है. ग्रामीण रोजगार एवं राज्य समन्वयक मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम परिषद के संचालक जसबीर सिंह चौहान ने सोमवार को आधिकारिक बयान जारी कर बताया कि प्रदेश के 18 सूखा प्रभावित जिलों की 37 हजार 615 शालाओं के लगभग 20 लाख बच्चों को गर्मी की छुट्टियों के दौरान प्रतिदिन मध्यान्ह भोजन दिया जा रहा है.

चौहान के मुताबिक, वर्ष 2018-19 के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के 18 जिलों जिलों अशोकनगर, भिंड, छतरपुर, दमोह, ग्वालियर, पन्ना, सागर, सतना, शिवपुरी, सीधी, टीकमगढ़, विदिशा, शाजापुर, श्यौपुर, मुरैना, दतिया, शहडोल एवं उमारिया केा सूखा ग्रस्त घोषित किया गया है. इन जिलों के प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों में दर्ज बच्चों को गर्मी की छुट्टियों में भी प्रतिदिन निर्धारित मेनू के अनुसार मध्यान्ह भोजन दिया जा रहा है.

चौहान ने बताया कि इस व्यवस्था को प्रभावी ढंग से संचालित करने के लिए अवकाश के दिनों में एक शिक्षक के ड्यूटी लगाई गई है. राज्य स्तर से लेकर जिला स्तर तक मॉनिटरिंग के लिए टीम गठित कर दी गई है. परिषद के संचालक चौहान ने आगे बताया कि मध्यान्ह भोजन योजना के तहत सामान्य अध्ययन दिवस में प्रदेश में 87 हजार 786 प्राथमिक शालाओं के 37.13 लाख बच्चों तथा 30 हजार 936 माध्यमिक शालाओं के 23 लाख 18 हजार बच्चों को प्रतिदिन मध्यान्ह भोजन दिया जाता है.

दोस्तों के साथ शेयर करे.....