Home भोपाल/ म.प्र ओलावृष्टि नहीं बीमारी के कारण की थी किसान ने आत्महत्याः गोपाल भार्गव

ओलावृष्टि नहीं बीमारी के कारण की थी किसान ने आत्महत्याः गोपाल भार्गव

0 66 views
Rate this post

अशोकनगर

मध्य प्रदेश में किसानों की आत्महत्या का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. अशोकनगर जिले के गढ़ाकोट से किसान द्वारा आत्महत्या करने का मामला सामने आया था. किसान के आत्महत्या किए जाने के मामले में पंचायत एवं विकास मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र रेहली में कभी किसी किसान आत्महत्या ने आत्महत्या नहीं की है. उन्होंने बताया कि सिंगपुर गांव के किसान ने फसल नष्ट हो जाने के कारण नहीं बल्कि बीमारी के कारण आत्महत्या की है.

मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि किसान के क्षेत्र में थोड़ी सी भी ओलावृष्टि नहीं हुई इसलिए ये बात गलत है कि किसान ने फसल के नष्ट हो जाने के कारण आत्महत्या की. उन्होंने बताया कि किसान अपनी बीमारी के कारण काफी परेशान था. गोपाल भार्गव ने बताया कि किसान और किसान का पुत्र अपना इलाज उनके ही बंगले से करवा रहे थे. किसान बावासीर और पेट में अल्सर की बीमारी से परेशान था. किसान के बीमारी का रिकॉर्ड हमीदिया अस्पताल में मौजूद है. किसान ने बीमारी से तंग आकर आत्महत्या की है.

गौरतलब है कि सिंगपुर गांव के किसान के कुछ रोज पूर्व बेरी के पेड़ में लटक कर आत्महत्या कर ली थी. किसान के परिजनों ने बताया था कि ओलावृष्टि के कारण खेत में लगी चने की फसल बर्बाद हो गई थी. किसान के ऊपर साहूकारों का तीन लाख रुपये का कर्ज था.

कर्ज लौटाने के लिए साहूकार किसान को बार बार परेशान कर रहे थे. किसान ने अपनी फसल का बीमा भी करवाया था, लेकिन को बीमा की राशि नहीं मिली. जिससे परेशान होकर किसान ने आत्महत्या कर ली थी, लेकिन दूसरी ओर पुलिस और प्रशासन का कहना है कि किसान ने अपनी बीमारी के कारण परेशान होकर आत्महत्या की है.

मंत्री गोपाल भार्गव ने बताया कि आशोकनगर में हर साल की तरह इस साल भी किसानों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. पिछले साल की तरह इस साल भी कार्यक्रम में किसान सॉयल हेल्थ कार्ड बनाए जाएंगे और किसानों के खेतों की मिट्टी का परीक्षण किया जाएगा.

दोस्तों के साथ शेयर करे.....