Home फीचर कन्नौज: एक्सप्रेस-वे पर बस ने 9 छात्रों को कुचला, 7 की मौके...

कन्नौज: एक्सप्रेस-वे पर बस ने 9 छात्रों को कुचला, 7 की मौके पर ही मौत

0 24 views
Rate this post

कन्नौज

उत्तर प्रदेश के लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर सोमवार को एक दर्दनाक हादसा हुआ। टूर पर जा रहे नौ छात्रों को एक रोडवेज बस ने कुचल दिया। इस दुर्घटना में छह छात्र और एक शिक्षक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि अन्य दो की हालत गंभीर है। इन घायल छात्रों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना आगरा एक्सप्रेस-वे पर कन्नौज के पास हुई। बताया जा रहा है कि संतकबीर नगर के प्रभा देवी विद्यालय के बीटीसी छात्रों का एक टूर दो बसों से हरिद्वार जा रहा था। रास्ते में एक बस का डीजल खत्म हो गया। बीच एक्सप्रेस-वे पर बस बंद हो गई। उस बस को किसी तरह किनारे लाया गया। उसमें बैठे छात्रों ने दूसरी बस से डीजल निकालकर बंद पड़ी बस में डालने का फैसला लिया। छात्र दूसरी बस से डीजल निकालकर बंद पड़ी बस में डाल रहे थे।

मरने वालों में महेश गुप्ता पुत्र कृष्णमुरारी निवासी संतकबीर नगर, विजय पुत्र हीरालाल निवासी हजरा खलीलाबाद, मिथलेस पुत्र राजेन्द्र प्रसाद निवासी डकसरा, विशाल कुमार पुत्र प्रकाश चंद्र निवासी सहजनवां, अभय प्रताप पुत्र देवेन्द्र कुमार निवासी लवाई नगर खलीलाबाद, सतीश पुत्र रामपहर निवासी शकुलीन नाथनगर और जितेंद्र यादव चकिया भीटी रावत. घायलों में प्रमोद कुमार पुत्र उदयराज निवासी हरियावां मैदावाल बस्ती और चिंतामणि पुत्र राजाराम निवासी जुगाई शामिल हैं.

हादसे के बाद बस चालक फरार
इसी दौरान एक्सप्रेसवे से गुजर रही तेज रफ्तार बस ने छात्रों को कुचल दिया। हादसे के बाद बस चालक बिना रुके ही वहां से भाग निकला। बताया जा रहा है कि बस का रंग लाल था। छात्रों के कुचलते ही वहां हड़कंप मच गया। छह छात्रों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। पुलिस को सूचना दी गई। आननफानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल पहुंचते ही एक शिक्षक ने दम तोड़ दिया। सातों के शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजे गए हैं, वहीं गंभीर रूप से घायल दो छात्रों का इलाज अस्पताल में चल रहा है।

मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने मृतक के परिजनों को दो-दो लाख रुपये और घायलों के परिजनों को 50-50 हजार रुपये मुआवजे देने की घोषणा की है। वहीं जिला प्रशासन को निर्देश दिए हैं कि बस के बाकी छात्रों को सुरक्षित घर भेजने की व्यवस्था करें।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....