Home राज्य कर्नाटक: सिद्धारमैया का यू टर्न, नहीं कहा ‘हिंदू आतंकवादी’

कर्नाटक: सिद्धारमैया का यू टर्न, नहीं कहा ‘हिंदू आतंकवादी’

0 87 views
Rate this post

बेंगलुरु

कर्नाटक में इस साल विधानसभा चुनाव से पहले सियासी पारा गरमा गया है। राज्य के सीएम सिद्धारमैया और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के बीच जुबानी जंग और ट्विटर वॉर चर्चा में रही थी। इस बीच सिद्धारमैया ने बीजेपी और आरएसएस में हिंदू कट्टरपंथी तत्वों की मौजूदगी वाले बयान पर पलटी मारी है।इस मामले में डैमेज कंट्रोल की कवायद के तहत सिद्धारमैया ने कहा, ‘मैंने केवल इतना कहा था कि बीजेपी और आरएसएस में कुछ हिंदू कट्टपंथी तत्व मौजूद हैं। मैंने उन्हें आतंकवादी नहीं कहा था।’

चुनावी वर्ष में हिंदू वोटों के खिसकने के डर को सिद्धारमैया के बयान से पलटने की वजह माना जा रहा है। बुधवार को सिद्धारमैया ने चमाराजनगर जिले में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कथित तौर पर कहा था कि बीजेपी, आरएसएस और बजरंग दल में आतंकी तत्व हैं। इस बयान के बाद वह बीजेपी नेताओं के निशाने पर आ गए थे।

‘मैं भी एक हिंदू हूं’
कर्नाटक के सीएम के इस बयान को बीजेपी ने बड़ा मुद्दा बना लिया है। सिद्धारमैया पर हिंदू विरोधी होने का आरोप लगाते हुए बीजेपी ने शुक्रवार से जेल भरो आंदोलन की तैयारी की है। इसके साथ ही पार्टी के समर्थक सोशल मीडिया पर हैशटैग अरेस्ट मी सिद्धारमैया नाम से कैंपेन भी चला रहे हैं।

मैसुरू में सिद्धारमैया ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा, ‘मैंने कहा कि वे हिंदू कट्टरपंथी हैं। मैं भी एक हिंदू हैं। लेकिन उनके और मेरे बीच फर्क यह है कि मैं इंसानियत के साथ हिंदू धर्म को मानने वाला हूं।’ कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक विधानसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी आलाकमान ने उन्हें बीजेपी के सांप्रदायिक अजेंडे में फंसने के बजाए विकास के अजेंडे पर कायम रहने के निर्देश दिए हैं।

बीजेपी का जेल भरो आंदोलन
हालांकि बीजेपी पर सिद्धारमैया के बदले हुए रुख का असर नहीं नजर आ रहा है। चिकमंगलुरु-उडुपि से सांसद शोभा करंदलाजे ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा, ‘सीएम के मुताबिक हम आतंकवादी और बहुत खतरनाक लोग हैं। हमें जेल में रखे जाने की जरूरत है, इसलिए जेल भरो आंदोलन चलाया जा रहा है।’

धारवाड़ से बीजेपी एमपी प्रहलाद जोशी ने आरएसएस-बीजेपी के कार्यकर्ताओं को उग्रवादी बताने के लिए सिद्धारमैया को ऐंटी नैशनल करार दिया है। उन्होंने कहा, ‘देश के लोगों ने बीजेपी को बहुमत दिया है और पार्टी देश का शासन चला रही है।’

बीजेपी की सोशल मीडिया विंग ने सीएम के कॉमेंट को हिंदू भावनाओं से जोड़कर अभियान चलाया हुआ है। ऐसे ही एक ट्वीट में कहा गया, ‘सिद्धारमैया, क्या आप बीजेपी और आरएसएस के सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करेंगे? क्या आपके पास 10 लाख से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार करके रखने के लिए जगह है। अगर ऐसा है तो इसकी शुरुआत मुझसे कीजिए।’

दोस्तों के साथ शेयर करे.....