Home फीचर क्या कश्मीरी पंडितों की आवाज उठाने पर नहीं दिया पाक ने वीजा?:...

क्या कश्मीरी पंडितों की आवाज उठाने पर नहीं दिया पाक ने वीजा?: अनुपम खेर

0 412 views
Rate this post

नई दिल्ली

ANUPAMKHER_1855763gपाकिस्तान ने मशहूर एक्टर अनुपम खेर को वीजा देने से इनकार कर दिया है। अनुपम को कराची साहित्य महोत्सव में शामिल होना था। कराची में 5 फरवरी से महोत्सव होना है। 18 लोगों में से अनुपर को छोड़कर 17 लोगों को वीजा दिया गया है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान अनुपम खेर से नाराज है, इसी के चलते ये फैसला लिया गया। वहीं पाकिस्तान उच्चायोग के सूत्रों का कहना है कि अनुपम ने वीजा के लिए आवेदन ही नहीं किया था।

पाकिस्तानी सरकार की ओर से वीजा नहीं मिलने के कारण अभिनेता अनुपम खेर पांच फरवरी से शुरू होने वाले कराची साहित्य महोत्सव में भाग नहीं ले सकेंगे। चार दिवसीय समारोह के लिए आयोजकों ने 18 भारतीयों को आमंत्रित किया था। खेर उनमें से एक थे। खेर एकमात्र व्यक्ति हैं जिन्हें वीजा नहीं मिल सका। अन्य 17 प्रतिभागियों को वीजा मिल गया।

कुछ ही दिन पहले पदम विभूषण से सम्मानित खेर कम से कम दो सत्र में भाग लेने वाले थे और महोत्सव के कार्यक्रम में उनके नाम का उल्लेख प्रमुखता से किया गया था। वीजा नहीं दिये जाने की पुष्टि करते हुये खेर ने बताया कि वह इसे देख कर काफी दुखी हैं। वह महोत्सव में भाग लेने के बारे में आगे की ओर सोच रहे थे और वहां के लोगों के मन में गलतफहमी दूर करने के लिए मंच का इस्तेमाल करना चाहते थे।

उन्होंने कहा कि हम उनके कलाकारों का भारत में स्वागत करते हैं। अगर भारत में एक जगह पर उनकी प्रस्तुति पर आपत्तियां होती है तो दूसरे जगह उनका स्वागत होता है। लेकिन यह पारस्परिक नहीं है।’’ वीजा नहीं दिये जाने के मुद्दे पर खेर ने बताया, ‘‘काश मैं जान पाता। मैं सोच रहा हूं कि क्या यह मेरे कश्मीरी पंडित होने या भारत में सहिष्णुता पर बहस में मेरे विचारों के कारण हुआ है। खेर ने बताया कि वीजा नहीं मिलने के कारण महोत्सव के आयोजकों को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा और उन्होंने मुझसे खेद जताया है।

अनुपम का कहना है कि उन्हें वीजा अब तक नहीं दिया गया है। अनुपम ने ट्वीटर पर लिखा, खबर आने के बाद अनुपम ने एक के बाद एक ट्वीट कर पाकिस्तान सरकार के फैसले पर सवाल उठाते हुए पूछा कि क्या उन्हें कश्मीरी पंडितों का मुद्दा उठाने और असहिष्णुता पर बयानों के चलते वीजा नहीं दिया गया।

अनुपम ने वीजा का कोई आवेदन नहीं दिया : पाक उच्चायोग
पाकिस्तान उच्चायोग ने आज उस रिपोर्ट का खंडन किया जिसमें कहा गया है कि कराची साहित्य सम्मेलन में भाग लेने के लिये फिल्म अभिनेता अनुपम खेर को पाकिस्तानी वीसा देने से इनकार कर दिया गया है। यहाँ स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग के प्रवक्ता मंजÞूर अली मेमन ने ऐसी मीडिया रिपोर्टों पर टिप्पणी करते हुए कहा कि श्री खेर ने पाकिस्तानी उच्चायोग में वीजा का कोई आवेदन नहीं दिया लिहाजा वीजा देने से इनकार करने का प्र ही नहीं उठता।

साहित्योत्सव की सह-संस्थापक अमीना सैयद ने कहा कि उन्हें यह नहीं बताया गया कि किस वजह से अनुपम खेर को वीजा नहीं दिया गया है। अमीना ने कहा कि उन्हें वीजा जारी नहीं किया गया। मुझे वजहें नहीं बताई गईं। मेरी अपनी समझ है कि वह पिछले कुछ हफ्तों से हिंदुस्तान में जो बयान दे रहे हैं, शायद उसी वजह से हुआ। उन्होंने कहा कि साहित्य और राजनीति को अलग नहीं किया जा सकता और अनुपम खेर की मौजूदगी कराची के श्रोता को एक अलग परिप्रेक्ष्य प्रदान करती है। अमीना ने एक समाचार चैनल से कहा कि हमने अशोक चोपड़ा के साथ श्रोताओं की बड़ी तादाद वाला उनका एक खास सत्र रखा था। लोग उनसे उनके विचार के बारे में सवाल पूछते। उन्हें लोगों से बातचीत करने का, उनके साथ संवाद करने का, उनके सवालों का जवाब देने का मौका होता और इस प्रक्रिय में कुछ समझ विकसित होती।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....