Home भोपाल/ म.प्र गृहमंत्री की यह दूसरी असफलता, इस्तीफा दें गृहमंत्री : अजय सिंह

गृहमंत्री की यह दूसरी असफलता, इस्तीफा दें गृहमंत्री : अजय सिंह

0 33 views
Rate this post

भोपाल

नेता प्रतिपक्ष श्री अजय सिंह ने अंततः यह स्वीकार लिया की टीकमगढ़ सरकार ने थाने में किसानों के न केवल कपड़े उतरवाए बल्कि उनके साथ दुर्व्यवहार भी हुआ है। उन्होंने कहा कि किसानों के साथ हुई इस घटना से प्रदेश पूरे देश में शर्मसार हुआ है।

नेता प्रतिपक्ष श्री सिंह ने आज जारी एक बयान में कहा कि कल तक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गृहमंत्री और भाजपाध्यक्ष टीकमगढ़ में हुए किसान आंदोलन के दौरान गिरफ्तार किसानों के थाने में कपड़े उतरवाने की घटना को कांग्रेसी नौटंकी बता रहे थे। आज गृहमंत्री ने टी.आई. और पूरे थाने को लाइन अटैच कर यह स्वीकारा है कि यह कृत्य उनकी सरकार का ही है। इसके पहले मंदसौर जिले के पिपल्या मंडी में किसानों की छाती पर गोली चलाने के बाद भी गृहमंत्री ने गैर जिम्मेदराना बयान दिया था। ऐसे व्यक्ति को कानून व्यवस्था से जुड़े विभाग का मंत्री पद पर बने रहने का अधिकार नहीं है। गृहमंत्री को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

नेता प्रतिपक्ष श्री सिंह ने कहा कि टीकमगढ़ की घटना ने पूरे देश में मध्यप्रदेश को शर्मसार किया है। अन्नदाता किसानों के साथ सरकार यह व्यवहार अंग्रेजों जैसा था। सरकार ने हालांकि अभी तक उस जांच रिपोर्ट का खुलासा नहीं किया है जो उसने तीन दिन में करवाने का एलान किया था। श्री सिंह ने कहा कि यह सरकार किसानों के साथ अत्याचार कर रही है।

ऊंट के मुंह में जीरा है पेट्रोल-डीजल में राहत
नेता प्रतिपक्ष श्री अजय सिंह ने पेट्रोल-डीजल पर राज्य सरकार द्वारा कम किए गए वैट दर को ऊंट के मुंह में जीरे के बराबर राहत बताया है। नेता प्रतिपक्ष श्री सिंह ने कहा कि केंद्र के दबाव में मजबूरी में लिया गया शिवराज सरकार का यह फैसला जनता के साथ छलावा है। आज भी प्रदेश में अन्य राज्यों की तुलना में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....