Home राज्य जतरा में किया जिंदा सांप का इस्तेमाल, काटने से अभिनेत्री की मौत

जतरा में किया जिंदा सांप का इस्तेमाल, काटने से अभिनेत्री की मौत

0 14 views
Rate this post

बारासात

पश्चिम बंगाल में एक जतरा (पश्चिम बंगाल का प्रसिद्ध लोकनृत्य) के दौरान इस्तेमाल किए गए जिंदा सांप के काटने से एक अभिनेत्री की मौत हो गई। राज्य के उत्तरी 24 परगना जिले में ‘मनसा मंगल काव्य’ पर आधारित एक जतरा का आयोजन किया गया था। नाटक के दौरान जिंदा सांप का इस्तेमाल किया जा रहा था, जिसके काटने से 63 वर्षीय एक अभिनेत्री की मौत हो गई। यह घटना मंगलवार की रात हसनाबाद पुलिस स्टेशन के बारूनहाट गांव में हुई।

पुलिस ने बताया कि अभिनेत्री कालीदासी मंडल को सांप के काटने के बाद अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं, अभिनेत्री की एक सह कलाकार ने आरोप लगाया कि इस घटना के बाद एक ‘ओझा’ ने उन्हें ठीक करने की कोशिश की थी लेकिन वह नाकाम रहा। सह अभिनेत्री ने बताया कि मंडल को एक स्थानीय प्राथमिक अस्पताल में ले जाया गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई।

भारत में कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां लोगों का विश्वास है कि ‘ओझा’ मंत्र पढ़कर और औषधी का इस्तेमाल करके ऐसे लोगों का इलाज कर सकता है, जिन्हें जहरीले सांप ने काटा हो। पुलिस ने बताया कि अभी तक किसी ने इस संबंध में शिकायत नहीं दर्ज कराई है लेकिन वह इस मामले की जांच कर रहे हैं। जात्रा ‘मनसा मंगल काव्य’ पर आधारित था। इसमें सांपों की देवी मनसा की कहानी है।

बता दें कि ‘जतरा’ पश्चिम बंगाल का प्रसिद्ध लोकनृत्य है, जिसके आयोजन के दौरान जिंदा सांप का उपयोग किया गया था क्योंकि जतरा ‘मनसा मंगल काव्य’ पर आधारित था। मनसा मंगल काव्य मध्यकालीन युग का साहित्य है, जिसने सांपों की देवी मनसा ने बंगाल में खुद को एक देवी के रूप में कैसे स्थापित किया इसका वर्णन है। बशीरघाट के एसपी, एस राजकुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि शरीर को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....