Home खेल जब रायडु को बैटिंग न देकर धोनी ने टीम इंडिया को हरवा...

जब रायडु को बैटिंग न देकर धोनी ने टीम इंडिया को हरवा दिया था

0 62 views
Rate this post

आईपीएल में चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के सलामी बल्‍लेबाज अंबाती रायडु ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ धमाकेदार शतक(नाबाद 100) लगाया. इस शतक के बूते चेन्‍नई ने हैदराबाद को आठ विकेट से हरा दिया. जब रायडु शतक के करीब थे तब महेंद्र सिंह धोनी भी क्रीज पर मौजूद थे. धोनी ने ही सिंगल लेकर रायडु को शतक के लिए स्‍ट्राइक दी थी. दिलचस्‍प बात है कि लगभग चार साल पहले धोनी ने इंग्‍लैंड के खिलाफ टी20 मुकाबले में आखिरी ओवर में रायडु को स्‍ट्राइक नहीं दी थी और टीम इंडिया तीन रन से मैच हार गई थी. इसकी काफी आलोचना हुई थी.

चार साल पहले इंग्लैंड में यह हुआ था
इंग्‍लैंड ने पहले खेलते हुए कप्‍तान ऑयन मॉर्गन के अर्धशतक(71) के बूते 180 रन का स्‍कोर खड़ा किया था. इसके जवाब में भारत की ओर से विराट कोहली ने फिफ्टी(66) लगाई और टीम इंडिया को जीत के करीब पहुंचाया. टीम इंडिया को जीत के लिए आखिरी दो ओवर में 26 रन चाहिए थे. धोनी और रायडु ने 19वें ओवर से नौ रन बटोरे. इसके बाद आखिरी ओवर में भारत को 17 रन चाहिए थे और एमएस धोनी स्‍ट्राइक पर थे.

वो आखिरी ओवर…
धोनी ने क्रिस वॉक्‍स की पहली गेंद पर छक्‍का उड़ाया. इसके बाद दूसरी गेंद पर दो रन आए. तीसरी गेंद पर धोनी ने सिंगल नहीं लिया. चौथी गेंद पर चौका लगाया. पांचवीं बार धोनी ने फिर से बल्‍ला घुमाया लेकिन बड़ा शॉट नहीं आया. साथ ही एक रन लेने से भी इनकार कर दिया. ऐसे में आखिरी गेंद पर टीम इंडिया को छक्‍का चाहिए था लेकिन केवल एक रन आया और टीम तीन रन से हार गई. इसके बाद उनकी काफी आलोचना हुई कि अंबाती रायडु के रूप में विशेषज्ञ बल्‍लेबाज होने के बावजूद उन्‍होंने दो गेंदों पर सिंगल क्‍यों नहीं लिए. धोनी ने इस बारे में कहा कि हार के लिए वे जिम्‍मेदार हैं. उन्‍होंने रायडु को इसलिए स्‍ट्राइक नहीं दी क्‍योंकि वे नए-नए क्रीज पर आए थे.

चार साल बदली पूरी कहानी
अब चार साल बाद रायडु ही धोनी के लिए संकटमोचक साबित हो रहे हैं. ओपनर के रूप में उतर रहे रायडु ने इस सीजन में 500 से ज्‍यादा रन उड़ाए हैं और वे ऑरेंज कैप की दौड़ में हैं. धोनी भी उनकी काफी तारीफ कर रहे हैं. रविवार को उन्‍होंने रायडु के शतक के लिए छक्‍का लगाकर जिताने के बजाय सिंगल लिया.

दोस्तों के साथ शेयर करे.....