Home अंतरराष्ट्रीय …तो उ. कोरिया विवाद होगा हमेशा के लिए खत्म!

…तो उ. कोरिया विवाद होगा हमेशा के लिए खत्म!

0 24 views
Rate this post

सोल

पूरी दुनिया के लिए तनाव का सबब बन चुका कोरियाई प्रायद्वीप विवाद में अब राहत की खबरें सामने आ रहीं हैं। नॉर्थ कोरिया की सरकारी मीडिया ने कहा है कि उनका मुल्क न्यूक्लियर साइट को बंद करने के लिए तकनीकी कदम उठा रहा है। आपको बता दें कि अगले महीने नॉर्थ कोरिया के शासक किम जोंग-उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की ऐतिहासिक मुलाकात होने जा रही है। मुलाकात से पहले इस कदम को बड़ी खबर समझा जा रहा है।

नॉर्थ कोरिया की आधिकारिक स्टेट मीडिया एजेंसी KCNA (कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी) ने कहा है कि परमाणु साइटों को बंद करने के कार्यक्रम के लिए 23 मई और 25 मई के बीच का समय तय किया गया है। हालांकि स्टेट मीडिया ने यह भी कहा है कि मौसम की स्थिति के मुताबिक ही कार्यक्रम संपन्न होगा। नॉर्थ कोरिया के विदेश मंत्रालय की प्रेस रिलीज के मुताबिक न्यूक्लियर टेस्ट टनल उड़ाए जाएंगे और उनमें प्रवेश बाधित किया जाएगा।

इसके मुताबिक न्यूक्यिलयर साइट्स को बंद करने की प्रक्रिया के तहत वहां मौजूद सारी ऑब्जर्वेशन सुविधाएं, रिसर्च इंस्टिट्यूट्स को गार्ड्स व रिसर्चर समेत हटाया जाएगा। विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि न्यूक्लियर टेस्ट साइट को नष्ट करने को पारदर्शिता से दिखाने के लिए चीन, रूस, अमेरिका, ब्रिटेन और दक्षिण कोरिया के पत्रकारों को मौके पर जाने की इजाजत दी जाएगी।

बयान में कहा गया है कि न्यूक्लियर टेस्ट साइट सुदूर पहाड़ी क्षेत्र में निर्जन जगह पर स्थित है, इसलिए वहां जाने वाले विदेशी पत्रकारों की संख्या सीमित रखी जाएगी। बता दें कि किम और ट्रंप के बीच कुछ हफ्तों पहले तक जुबानी जंग छिड़ी हुई थी और दोनों एक दूसरे पर अपमानजनक टिप्पणी कर रहे थे और परमाणु हमले की धमकी दे रहे थे। हालात में नाटकीय बदलाव तब आया जब दोनों नेता मिलने के लिए सहमत हुए। उत्तर कोरिया के तानाशाह ने पिछले महीने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई-इन से कोरिया में मुलाकात की और परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में बढ़ने की प्रतिबद्धता जताई।

किम जोंग उन अब सिंगापुर में 12 जून को अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से मुलाकात करने वाले हैं। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने शुक्रवार को वादा किया था कि अगर उत्तर कोरिया अपने परमाणु कार्यक्रम को बंद करने पर समहत होता है तो अमेरिका प्रतिबंधों से बेहाल उसकी अर्थव्यवस्था को नए सिरे से आगे बढ़ाने का काम करेगा।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....