Home फीचर दोस्त नेतन्याहू के लिए प्रोटोकॉल तोड़ेंगे पीएम मोदी

दोस्त नेतन्याहू के लिए प्रोटोकॉल तोड़ेंगे पीएम मोदी

0 65 views
Rate this post

नई दिल्ली

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के भारत दौरे को पीएम नरेंद्र मोदी स्पेशल बनाने में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहते। पीएम मोदी प्रोटोकॉल तोड़ नेतन्याहू और उनकी पत्नी सारा को एयरपोर्ट लेने भी जाएंगे। नेतन्याहू के दौरे से पहले 15 साल पहले इजरायल के तत्कालीन पीएम ऐरल शेरॉन ने 2003 में भारत का दौरा किया था। पीएम मोदी के पिछले साल जुलाई में हुए इजरायल दौरे के दौरान नेतन्याहू ने मोदी का किसी धार्मिक गुरु जैसा स्वागत किया था। अधिकारियों के मुताबिक मोदी का स्वागत पोप या अमेरिका के राष्ट्रपति के स्वागत समान था। नेतन्याहू अपनी इस छह दिनों की यात्रा के दौरान दिल्ली, आगरा, अहमदाबाद और मुंबई जाएंगे. इस दौरान दोनों देशों के बीच कृषि, रक्षा और आंतरिक सुरक्षा से जुड़े कई अहम करार होने की संभावना है.

मोदी और नेतन्याहू का दिल्ली में पहला स्टॉप तीन मूर्ति स्मारक पर होगा। यहां दोनों प्रधानमंत्री करीब एक 100 साल पहले हुए हाइफा के युद्ध में लड़ी 3 भारतीय रेजिमेंट की याद में पुष्प अर्पित करेंगे। इसके बाद ही तीन मूर्ति हाइफा चौक और तीन मूर्ति मार्ग का नया नाम तीन मूर्ति हाइफा मार्ग औपचारिक रूप से हो जाएगा।

भारत के तीन राज्यों (जोधपुर, हैदराबाद और मैसूर) से इजरायल में भेजे गए सैनिकों के नाम पर तीन मूर्ति चौक का नाम रखा गया था। तीनों राज्यों के सैनिकों को मुस्लिम तुर्कों से फिलिस्तीनी लोगों की मुक्ति के लिए भेजा गया था। भारतीय रेजिमेंट ने हाइफा को संयुक्त शक्तियों से जीत लिया था। इस लड़ाई में 44 भारतीय जवानों की जान गई थी।

नेतन्याहू की पहली आधिकारिक मुलाकात विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ होगी। रविवार रात पीएम मोदी नेतन्याहू के लिए खास पर्सनल डिनर भी होस्ट करेंगे। मोदी के इजरायल दौरे के दौरान उनकी पसंद का खाना बनाने के लिए भारतीय मूल के शेफ को लगाया गया था। सोमवार से नेतन्याहू के दौरे का आधिकारिक काम शुरू होगा। राष्ट्रपति भवन में उनका स्वागत किया जाएगा और पीएम के साथ उनकी मीटिंग भी तय है। डेलिगेशन लेवल की मीटिंग के बाद आधिकारिक लंच होगा और फिर व्यापारिक सम्मेलनों का दौर शुरू होगा।

भारत-इजरायल संबंध के लिए अहम पड़ाव
किसी इजरायली प्रधानमंत्री की यह 15 साल बाद हो रही भारत यात्रा है. इससे पहले 2003 में इजरायल के तत्कालीन प्रधानमंत्री ऐरियल शेरॉन भारत आए थे. ऐसे में यह यात्रा दोनों देशों के रिश्तों के लिए काफी अहम मानी जा रही है.

‘स्पाइक’ मिसाइलों की हो सकती है डील
नेतन्याहू की इस यात्रा के दौरान उनके साथ 130 कारोबारियों का एक प्रतिनिधिमंडल भी भारत आ रहा है. इस दौरान इजरायली टैंक रोधी मिसाइलों के लिए करीब 500 मिलियन डॉलर की करोड़ों डॉलर के एक सौदे पर दस्तखत होने की भी उम्मीद है.हाल ही में भारत ने इजरायल की सरकार के नियंत्रण वाली डिफेंस कॉन्ट्रैक्टर राफेल कंपनी को दिए ऐंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल का ऑर्डर कैंसल कर दिया था. हालांकि अब बताया जा रहा है कि ‘सरकार-से-सरकार’ रूट से इन मिसाइलों की खरीद पर विचार किया जा रहा है.

ये है बेंजामिन नेतन्याहू का पूरा शेड्यूल
इज़राइल के पीएम 14 जनवरी की दोपहर तक तक नई दिल्ली पहुंचेंगे. 15 जनवरी को हैदराबाद हाउस में पीएम मोदी और इजरायली पीएम के बीच द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत होगी. 16 जनवरी को नेतान्याहू ताजमहल देखने आगरा जाएंगे. 17 जनवरी को वह पीएम मोदी के साथ अहमदाबाद आएंगे. यहां दोनों नेता रोड शो कर सकते हैं. 18 जनवरी को इज़राइली पीएम नई दिल्ली से अपने देश लौट जाएंगे.

दोस्तों के साथ शेयर करे.....