Home फीचर प्रणव मुखर्जी बोले, भारत मां के महान सपूत थे डॉ. हेडगेवार

प्रणव मुखर्जी बोले, भारत मां के महान सपूत थे डॉ. हेडगेवार

Rate this post

नागपुर

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संघ शिक्षा वर्ग (तृतीय वर्ष) के समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे प्रणव ने अपने संबोधन से पहले आरएसएस संस्थापक डॉ हेडगेवार को ‘भारत मां का सच्चा सपूत’ बताया है। गुरुवार को डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार के जन्मस्थान पहुंचे पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने विजिटर बुक में लिखा, ‘आज मैं यहां भारत माता के एक महान सपूत के प्रति अपना सम्मान जाहिर करने और श्रद्धांजलि देने आया हूं।’

प्रणव इसके बाद साढ़े छह बजे तृतीय वर्ष का प्रशिक्षण लेने वाले काडर को संबोधित करेंगे। तकरीबन 5 दशक से कांग्रेस की राजनीति करने वाले पूर्व राष्ट्रपति का संघ के कार्यक्रम में हिस्सा लेना अप्रत्याशित माना जा रहा है। प्रणव गुरुवार रात 9:30 बजे तक संघ मुख्यालय में मौजूद रहेंगे।
विजिटर बुक में प्रणव का मेसेज

खास बात यह है कि मुखर्जी कांग्रेस नेता के तौर पर हिंदुत्व की विचारधारा और सांप्रदायिकता के आरोपों के कारण RSS के बड़े आलोचक रहे हैं। ऐसे में अब यह जानना दिलचस्प होगा कि जब वह आरएसएस के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होंगे तो उनका भाषण क्या होगा।

आपको बता दें कि राजनीतिक वर्ग का एक हिस्सा कांग्रेस पार्टी से जुड़े रहे प्रणव मुखर्जी के आरएसएस के कार्यक्रम में बतौर चीफ गेस्ट शामिल होने से खुश नहीं है। उसका मानना है कि इससे संघ की कट्टर हिंदुत्व की विचारधारा को मान्यता मिलेगी। वहीं, एक दूसरे वर्ग का कहना है कि राजनीतिक विरोध के बीच ऐसा जुड़ाव लोकतंत्र के लिए जरूरी है, क्योंकि ऐसा नहीं होने पर कई बार राष्ट्रहित को नुकसान पहुंचता है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....