Home राजनीति बीजेपी बोली ‘भगवा आतंकवाद’ पर माफी मांगें सोनिया-राहुल

बीजेपी बोली ‘भगवा आतंकवाद’ पर माफी मांगें सोनिया-राहुल

0 33 views
Rate this post

नई दिल्ली

2007 के मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में सभी आरोपियों के बरी हो जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। बीजेपी नेता संबिता पात्रा ने कहा है कि पी चिदंबरम और सुशील शिंदे जैसे नेताओं ने ‘भगवा आतंकवाद’ शब्द का इस्तेमाल कर हिंदुओं का अपमान किया था। पात्रा ने कहा है कि इसके लिए सोनिया और राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए। बीजेपी ने कोर्ट के इस फैसले को कर्नाटक चुनावों के लिए अपना हथियार बनाते हुए कहा कि वहां जनता वहां कांग्रेस को हराकर इस अपमान का बदला चुकाएगी।

आपको बता दें कि सोमवार को मक्का मस्जिद में हुए शक्तिशाली पाइप बम धमाके मामले में स्वामी असीमानंद सहित सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया है। 11 साल बाद आए इस फैसले के बाद बीजेपी कांग्रेस के खिलाफ हमलावर हुई है। संबिता पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस के नेताओं के बयान शर्मनाक हैं। पात्रा ने कहा कि कांग्रेस के नेता अब कह रहे हैं कि एनआईए ने पैरवी ठीक से नहीं की। उन्होंने कहा कि हाल में 2जी पर जब फैसला आया तब तो कांग्रेस ऐसा नहीं कह रही थी। पात्रा ने कांग्रेस पर डबल स्टैंडर्ड रखने का आरोप लगाया।

बीजेपी नेता पात्रा ने कहा कि आज देश को 2013 का कांग्रेस का जयपुर अधिवेश याद आ रहा है। पात्रा ने कहा, ‘उस अधिवेशन में मंच पर कांग्रेस की तत्कालीन अध्यक्ष सोनिया गांधी, तत्कालीन उपाध्यक्ष राहुल गांधी, तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह और गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे मौजूद थे। शिंदे ने इस मंच से हिंदू आतंकवाद/सैफरन टेरर का इस्तेमाल किया।’ पात्रा ने कहा कि 2010 में सबसे पहले पी चिदंबरम ने भगवा आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल किया। पात्रा ने आरोप लगाया कि तुष्टीकरण की राजनीति और चंद वोटों के लिए कांग्रेस ने हिंदुओं को बदनाम किया। पात्रा ने कहा कि चिदंबरम या शिंदे ने ये सब सोनिया और राहुल से सीखा है, इसलिए इन्हें ही देश से माफी मांगनी चाहिए।

असीमानंद की रिहाई के बहाने बीजेपी का कर्नाटक चुनावों पर निशाना
बीजेपी ने मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में स्वामी असीमानंद समेत अन्य आरोपियों की रिहाई के बहाने कर्नाटक विधानसभा चुनावों पर निशाना लगाने की कोशिश की है। संबित पात्रा ने कहा कि कर्नाटक चुनावों से पहले कोर्ट का फैसला आया है। हम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा कि 2013 में सुशील कुमार शिंदे ने देश के सभी पीएम को चिट्ठी कहा था कि निर्दोष मुस्लिम युवकों को प्रताड़ित न करें।

पात्रा ने कहा कि तुष्टीकरण की राजनीति के तहत मुस्लिम शब्द का इस्तेमाल हुआ। उन्होंने आरोप लगाया कि सिद्धारमैया सरकार ने भी एक ऐसी चिट्ठी लिखी थी लेकिन जनदबाव की वजह से वापस लेनी पड़ी। पात्रा ने सिद्धारमैया ने पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया से सांठगांठ का आरोप लगाते हुए कहा कि यहां जनता ईवीएम का बटन दबा कांग्रेस से हिंदू अपमान का बदला लेगी।

राहुल की मंदिर और दिग्विजय की नर्मदा यात्रा पर निशाना
संबित पात्रा ने राहुल गांधी के साथ साथ दिग्विजय सिंह पर भी तीखा हमला बोला है। पात्रा ने कहा कि 2014 में जब तुष्टीकरण की राजनीति के चलते कांग्रेस की हार हुई तो राहुल गांधी अस्थाई जनेऊ लेकर आए। दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए पात्रा ने कहा कि दिग्विजय सिंह आज नर्मदा यात्रा कर रहे हैं जबकि यह वही नेता हैं जिन्होंने कहा था कि अमेरिक सरकार ओसामा जी के साथ ठीक नहीं कर रही।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....