Home राष्ट्रीय बेटे को डॉक्टर बनाने के लिए चुराता था गाड़ियां, पुलिस ने किया...

बेटे को डॉक्टर बनाने के लिए चुराता था गाड़ियां, पुलिस ने किया गिरफ्तार

0 40 views
Rate this post

नई दिल्ली

द्वारका के वाहन चोरी निरोधक दस्ते की पुलिस टीम ने एक ऐसे शातिर गाड़ी चोर को पकड़ा है, जो सुपर चोर बंटी की तरह अकेले वारदात को अंजाम दे रहा था। वह अपने बेटे को डॉक्टर बनाना चाहता था, इसलिए गाड़ियां चुराने लगा। पुलिस सूत्रों की माने तो 4 साल से पुलिस को इसकी तलाश थी। इन 4 सालों में इसने 100 से ज्यादा गाड़ियां चोरी कर यूपी और दूसरे जगहों पर ठिकाने लगा दीं।

डीसीपी द्वारका सिबेष सिंह ने बताया कि इन्स्पेक्टर राजकुमार की टीम ने छापा मारकर इसे गिरफ्तार किया। इसकी निशानदेही पर पुलिस टीम ने यूपी में गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर और बुलंदशहर आदि इलाकों में 4 दिन तक रहकर अलग-अलग इलाकों में छापेमारी की और 3 रिसीवर को पकड़ा, जिनसे कुल 21 गाड़ियां बरामद की गईं।

बता दें कि गिरफ्तार किए गए बदमाश का नाम ब्रह्म सिंह है, जो बुलन्दशहर के सिकन्दराबाद का रहने वाला है। गिरफ्तार किए गए रिसीवर में खुर्जा का रहने वाला दिनेश कुमार, जेवर का रहने वाला मुकीम उर्फ भूरा और गौतम बुद्ध नगर का अशोक शामिल हैं। अभी तक की जांच में सब इन्स्पेक्टर धर्मेंद्र, सहायक सब इन्स्पेक्टर रणधीर, संजय, हेड कॉन्स्टेबल जितेंद्र, कॉन्स्टेबल रोहतास और जगत की टीम ने लगभग 50 से ज्यादा मामलों का पता लगाया है।

बेटे को बनाना चाहता था डॉक्टर
पूछताछ में पुलिस को पता चला कि सरगना का एक ही बेटा है, जिसको वह डॉक्टर बनाना चाहता था, लेकिन उसके पास कोई नौकरी नहीं थी। इसलिए वह शॉर्टकट से पैसे कमाने के लिए गाड़ी चोरी के धंधे में शामिल हो गया। अकेले वारदात करके गाड़ियों को यूपी के कुख्यात रिसीवर तक पहुंचाने लगा। वहां चंद मिनट में गाड़ियां कटकर ठिकाने लग जाती थीं। इसकी गिरफ्तारी से दिल्ली के कई इलाकों के मालों का खुलासा किया गया है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....