Home अंतरराष्ट्रीय भारत में आतंकी हमलों, चीन से रिश्तों पर US की भविष्यवाणी

भारत में आतंकी हमलों, चीन से रिश्तों पर US की भविष्यवाणी

Rate this post

वॉशिंगटन

अमेरिका के इंटेलिजेंस चीफ ने चेतावनी दी है कि पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी समूह भारत के अंदर हमले जारी रखेंगे और ऐसे में दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ने का खतरा है। नैशनल इंटेलिजेंस के निदेशक डैन कोट्स का यह बयान ऐसे वक्त में आया है, जब सुंजवान आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले में सेना के 6 जवान शहीद हुए हैं और एक अन्य शख्स ने अपनी जान गंवाई है। पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा अंजाम दिए गए इस हमले को लेकर दोनों देशों के बीच तीखी बयानबाजी चल रही है।

कोट्स ने सीनेट की सिलेक्ट कमेटी के सामने कहा, ‘इस्लामाबाद समर्थित आतंकी समूह भारत और अफगानिस्तान में हमले की योजना बनाने और हमले करने के लिए पाकिस्तान में अपनी सुरक्षित पनाहगाह का लाभ उठाना जारी रखेंगे।’ बता दें कि पाकिस्तान के इसी रवैये को लेकर उसके रिश्ते अमेरिका से भी काफी खराब हो चले हैं। अमेरिका ने हाल में उसे मिलने वाली करोड़ो डॉलर की सैन्य मदद पर रोक लगा दी थी।

पाकिस्तान के किसी आतंकी संगठन का नाम लिए बगैर कोट्स ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने के आसार हैं। चीन से पाकिस्तान की बढ़ती दोस्ती पर भी कोट्स ने चिंता जाहिर की। दूसरी तरफ ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद चीन से अमेरिका के संबंधों में ज्यादा खटास आई है।

कोट्स ने भारत और चीन के संबंध भी खटाई में रहने की बात कही। उनका मानना है कि भले ही लंबे वक्त तक चला डोकलाम विवाद थम गया हो, लेकिन दोनों देशों के संबंधों में फिलहाल सुधार आने की उम्मीद कम है। गौरतलब है कि मालदीव संकट को लेकर चीन लगातार भारत के खिलाफ बयानबाजी कर रहा है। उसने यहां तक कह डाला है कि अगर भारत मालदीव में अपनी सेना भेजता है तो वह उसे रोकने के लिए कदम उठाएगा।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....