Home भेल न्यूज़ भेल की जमीन पर खुल सकता है बुलेट ट्रेन बनाने का कारखाना

भेल की जमीन पर खुल सकता है बुलेट ट्रेन बनाने का कारखाना

0 537 views
Rate this post

भोपाल

केन्द्र सरकार बुलेट ट्रेन चलाने के लिए गुजरात के बड़ोदरा में 200 एकड़ जमीन तलाश रही है। ऐसा कहा जा रहा है कि इस काम के लिए बड़ोदरा में जमीन नहीं मिल पा रही है। यह जानकारी देते हुए भेल इंटक के अध्यक्ष आरडी त्रिपाठी ने बताया कि केन्द्र सरकार के पास भेल भोपाल यूनिट की करीब 2200 एकड़ जमीन अतिशेष पड़ी है। ऐसे में यहां बुलेट ट्रेन बनाने का कारखाना आसानी से खोला जा सकता है। उन्होंने बताया कि यहां पर्याप्त संसाधन भी मौजूद है। यहां भोपाल मेट्रो के लिए भी कारखाना स्थापित किया जा सकता है इसके लिए स्थानीय प्रबंधन पूरी कोशिश कर रहा है।

उन्होंने कहा कि इसके पूर्व भी भोपाल यूनिट में एनटीपीसी की एक यूनिट स्थापित होने वाली थी लेकिन प्रदेश सरकार के ध्यान न देने के कारण स्थापित नहीं हो सकी। यदि यह बुलेट ट्रेन बनाने का कारखाना भोपाल में खुलता है तो हजारों लोगों को रोजगार मिलने से इंकार नहीं किया जा सकता है। भेल की जमीन बोर्ड आफ डायरेक्टर ने प्रस्ताव पास कर भारत सरकार को भेज दिया गया था इसमें 800 एकड़ जमीन वर्कर के निजी मकान, डिग्री कॉलेज और शिक्षण संस्थानों के लिए दी गई थी। शेष जमीन उद्योग लगाने के लिए राज्य सरकार को दी गई थी।

इंटक की प्रमुख मांगे
-भेल का वेज रिवीजन एनटीपीसी और ओएनजीसी पेटर्न पर किया जाये।
-रेल्वे और कोल पेटर्न पर भेल कर्मचारियों की अनुकंपा नियुक्ति।
-वर्ष 2009 व उसके बाद भर्ती किये गये कर्मचारियों को ढाई इन्क्रीमेंट।
-वर्ष 2006 के कर्मचारियों को नौ माह का ऐरियर भुगतान।
-वर्ष 1980 के बाद व जुलाई 1998 के पहले भर्ती हुए कर्मचारियों को आर्थिक लाभ।
-भेल की जमीन पर साकेत नगर में कर्मचारियों के लिए भवन निर्माण।
-कस्तूरबा अस्पताल में नये डॉक्टरों की भर्ती।
-दस हजार रूपये की रिवार्ड स्कीम लागू हो।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....