Home भेल न्यूज़ भेल मेें नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी, मुकदमा दर्ज

भेल मेें नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी, मुकदमा दर्ज

0 397 views
Rate this post

भोपाल

शनिवार को भेल के बेदखली अधिकारी डीके मिश्रा ने भेल में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले दो युवकों को पकड़कर पिपलानी थाने के सुपुर्द कर मुकदमा दर्ज कराया है। पिपलानी थाने ने भेल और पांच अन्य युवकों की शिकायत पर इन दो युवकों के खिलाफ ठगी का मुकदमा दर्ज किया है। पकड़ा गया एक युवक भेल उपभोक्ता भंडार में सुपरवाइजर के पद पर काम करता है।

जानकारी के मुताबिक अनिल सिंह पिता गौरी सिंह निवासी बरखेड़ा और कन्नन के खिलाफ 420 का मुकदमा दर्ज किया गया। उन पर आरोप है कि उन्होंने चार युवकों से भेल में लेबर कॉन्ट्रेक्ट की नौकरी दिलाने के नाम पर पैसे लिए थे। आरोपियों ने इन चार बेरोजगार युवकों को ठेका मजदूर के फर्जी आईडेंटिटी कार्ड भी दिए थे। इससे पहले आरोपी अनिल सिंह को भेल के बेदखली अधिकारी डीके मिश्रा ने पकड़कर पिपलानी पुलिस को सौंपा दिया।

आरोपी अनिल सिंह द्वारा भेल में ठेका मजदूर की नौकरी दिलाने के नाम पर दर्जनों युवकों को ठगने की शिकायत भेल मैनेजमेंट की जानकारी में आईं थी। अनिल सिंह पहले भी भेल में ठेका मजदूर के रुप में काम करता था। श्री मिश्रा ने बताया कि वह इस युवक को पहचानते थे। जैसे ही ये युवक भेल नगर प्रशासक के दफ्तर में शनिवार सुबह आया, वह उसे पहचान गए।

इससे पहले की अनिल सिंह को दूसरे कर्मचारी पकड़ते वह दौड़ कर नगर प्रशासन दफ्तर से निकल गया। नगर प्रशासन के कर्मचारियों ने करीब आधा किलो मीटर दौड़ लगाकर आरोपी अनिल सिंह को पकड़ा। श्री मिश्रा ने बताया कि पूछताछ में आरोपी अनिल सिंह और कन्नन जो भेल उपभोक्ता भंडार में सुपरवाइजर है मिलकर बेरोजगार युवकों को ठगते थे।

चूंकी कन्नन पढ़ा लिखा है इसलिए अप्वाइंटमेंट लेटर और आइडेंटिटी कार्ड बनाने का काम करता था। बाद में कन्नन को भी बुलवाकर डीके मिश्रा ने पूछताछ की और पुलिस को सौंप दिया। डीके मिश्रा ने बताया कि अनिल सिंह भेल के खाली पड़े आवासों को लोगों को गैर कानूनी तरीके से किराए पर देता है ।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....