Home ग्लैमर ‘मां’ का खत, जिसे दिखाने से रोक न सके अमिताभ

‘मां’ का खत, जिसे दिखाने से रोक न सके अमिताभ

0 91 views
Rate this post

बॉलिवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन ने सोशल मीडिया पर अपनी ऑनस्क्रीन मां सुलोचना लाटकर का लिखा एक ख़त शेयर किया है। यह ख़त सुलोचना ने अमिताभ को उनके 75वें जन्मदिन पर भेजा था।इस प्यार भरे ख़त को फेसबुक पर शेयर करते हुए अमिताभ ने लिखा, ‘सुलोचना जी ने मेरी मां की भूमिका अनेक फिल्मों में निभाई, और उनका स्नेह, प्यार और आशीर्वाद हमेशा मिलता रहा, किंतु मेरी 75वीं वर्षगांठ पर उन्होंने जो मुझे अपने पत्र का उपहार दिया, उससे मैं अभिभूत हो गया!’ अमिताभ ने लिखा कि मैं खुद को इस पत्र को शेयर करने से रोक नहीं पाया।

पत्र में सुलोचना ने लिखा है, ‘आज आपको 75 साल पूरे हो रहे हैं, मराठी भाषा में ऐसी वर्षगांठ को ‘अमृतमहोत्सव’ कहा जाता है। आप अमृत का अर्थ तो जानते ही हैं। मेरी ईश्वर से प्रार्थना है कि आपकी आने वाली जिंदगी पर यह अमृतधारा सदा बरसती रहे।’ पत्र में सुलोचना लाटकर ने लिखा है, ‘मुझे अब भी ‘रेश्मा और शेरा’ का सीरियस, शर्मीला ‘छोटू’ याद है, जब मैं आज उसी ‘छोटू’ को पहाड़ की तरह मजबूत और विशाल रूप में देखती हूं तो मुझे भगवान के चमत्कार का साक्षात्कार होता है।’ सुलोचना लाटकर और अमिताभ बच्चन ने ‘मुकद्दर का सिकंदर’ (1978), ‘मजबूर’ (1974) और ‘रेश्मा और शेरा’ (1971) में साथ काम किया है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....