Home भोपाल/ म.प्र मासूमों से रेप : महिला कांग्रेस का तंज, सीएम शिवराज ने पढ़ाया...

मासूमों से रेप : महिला कांग्रेस का तंज, सीएम शिवराज ने पढ़ाया पाठ

0 38 views
Rate this post

भोपाल

केंद्र सरकार की ओर से पॉक्सो ऐक्ट में संशोधन को लेकर लाए गए अध्यादेश को रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंजूरी दे दी है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सरकार के इस कदम को महिला कांग्रेस ने भावनात्मक दांव का नाम दे दिया और इसे रेप मामले के दोषियों का समर्थन करने वाला बताया है। इस ट्वीट को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आड़े हाथों लेते हुए कांग्रेस पर करारा वार किया है।

दरअसल, नए अध्यादेश के मुताबिक 12 साल से कम उम्र के मासूमों के साथ रेप करने के दोषियों को मौत की सजा दी जाएगी। 16 साल से कम उम्र की लड़की से रेप करनेवाले की न्यूनतम सजा को 10 साल से बढ़ाकर 20 साल किया गया है। दोषी को उम्रकैद भी दी जा सकती है। इतना ही नहीं, अध्यादेश में यह भी प्रावधान किया गया है कि 12 साल से कम उम्र की लड़की से रेप के दोषी को न्यूनतम 20 साल की जेल या उम्रकैद या मौत की सजा दी जाएगी। इसके अलावा भगोड़ा आर्थिक अपराधी अध्यादेश पर भी राष्ट्रपति ने मुहर लगा दी है।

जानिए, क्या बोली महिला कांग्रेस
बीजेपी सरकार द्वारा लाए गए इस अध्यादेश पर ऑल इंडिया महिला कांग्रेस ने एक अलग ही टिप्पणी लोगों के बीच रखी। ऑल इंडिया महिला कांग्रेस नाम के ऑफिशल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया गया, ‘मासूमों के साथ रेप मामलों में मौत की सजा को पारित कराने के साथ ही बीजेपी ने भावनात्मक दांव चल दिया है। असल में यह बलात्कारियों को समर्थन और आश्रय देने के लिए है, फिर वह चाहे उन्नाव में हो, कर्नाटक में या कठुआ का मामला ही क्यों ना हो।’

सीएम शिवराज ने साधा कांग्रेस पर निशाना
ऑल इंडिया महिला कांग्रेस (एआईएमसी) की ओर से किए गए ट्वीट पर पलटवार करते हुए एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने ऑफिशल अकाउंट से ट्वीट किया। उन्होंने कहा, ‘सरकार वही है जो देश के आदेश पर त्वरित कार्रवाई करे। मासूमों पर होने वाले घृणित अपराधों पर मृत्युदंड का कानून किसी एक राजनीतिक दल की नहीं बल्कि पूरे देश की अपेक्षा थी।’ इसके आगे शिवराज ने लिखा है, ‘राजनीतिक मंच और भी हैं। कम से कम महिला कांग्रेस के द्वारा इस विषय पर ऐसी असंवेदनशील बातें उचित नहीं लगती हैं।’

अपने ही बयान में फंस गई थीं रेणुका चौधरी
बता दें कि शनिवार को कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी ने भी बलात्कार के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने की कोशिश की थी लेकिन ट्विटर यूजर्स ने रेणुका का पुराना बयान कि रेप तो चलते रहते हैं, की खबरें लगाकर उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया था।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....