Home राज्य यूपी: बदायूं में आंबेडकर की मूर्ति को पिंजरे में किया गया कैद

यूपी: बदायूं में आंबेडकर की मूर्ति को पिंजरे में किया गया कैद

0 85 views
Rate this post

बदायूं

पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से महापुरुषों की मूर्तियों के टूटने की घटनाएं सामने आने के बाद से राज्य का प्रशासनिक अमला कुछ ज्यादा ही सतर्क हो गया है। प्रशासन की चुस्ती का आलम यह है कि बदायूं शहर के बीचों-बीच एक चौराहे के पास लगी डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा को लोहे की सलाखों में बंद कर ताला लगा दिया गया है। आंबेडकर की प्रतिमा को लोहे के मजबूत जाल में बंद करने की यह घटना सदर कोतवाली क्षेत्र में स्थित गद्दी चौक की है।

बाबा साहब की प्रतिमा को न सिर्फ लोहे के जाल में बंद कर दिया गया है, बल्कि ताला भी लगा दिया गया है। साथ ही यहां पुलिस की ड्यूटी भी लगी हुई है। तीन होमगार्ड प्रतिमा की 24 घंटे सुरक्षा करते हैं। सीओ वीरेंद्र सिंह यादव इस मामले की जानकारी नहीं होने की बात कह रहे हैं। सीओ ने कहा कि हो सकता है कि किसी ने मूर्ति की सुरक्षा के मद्देनजर ऐसा किया होगा लेकिन किसने किया है, इसकी कोई जानकारी नहीं है। इस पूरे मामले की जांच कराई जाएगी।

बदायूं के एसडीएम पारसनाथ मौर्य के बताया कि 14 अप्रैल को डॉ. आंबेडकर जयंती तक मूर्तियों की विशेष सुरक्षा करने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसी आशंका है कि कुछ असामाजिक तत्व मूर्तियों को नुकसान पहुंचा कर माहौल बिगाड़ने का प्रयास कर सकते हैं। लेकिन मूर्ति को लोहे की सलाखों में किसने बंद किया इस सवाल पर उन्होंने भी अनभिज्ञता जताई।

इसके पहले प्रदेश की राजधानी लखनऊ से भी एक ऐसी ही घटना सामने आई थी। लखनऊ के बाबा साहब भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय (बीबीएयू) में बाबा साहब की मूर्तियों को सुरक्षित रखने के लिए रेलिंग और चैनल से घेरकर ताला जड़ दिया गया था। इससे पहले उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद, आजमगढ़ समेत कई इलाकों में मूर्ति तोड़ने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं, जिससे वहां तैनाव फैल गया था।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....