Home फीचर राहुल बोले, BJP के ‘डर’ पर होगी प्यार की जीत

राहुल बोले, BJP के ‘डर’ पर होगी प्यार की जीत

0 46 views
Rate this post

नई दिल्ली

देश को इन दिनों बांटने का काम चल रहा है। एक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति से लड़ाया जा रहा है। देश में गुस्सा फैलाया जा रहा है, लेकिन इसका मुकाबला कांग्रेस ही कर सकती है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को 2 दिवसीय कांग्रेस महाअधिवेशन के उद्घाटन सत्र में यह बात कही। दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में देश भर से आए कांग्रेसियों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘यह जो हाथ का निशान है, यही देश को जोड़ने और आगे ले जाने का काम कर सकता है।’

अपने अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार आयोजित हुए महाधिवेशन में राहुल ने मोदी सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा, ‘युवा और किसान जब मोदी जी की ओर देखते हैं तो वह सोचते हैं कि आखिर रास्ता कहां मिलेगा। देश को सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही रास्ता दिखा सकती है। वो गुस्से का प्रयोग करते हैं और हम प्यार और भाईचारे का। कांग्रेस जो काम करेगी, वह पूरे देश के लिए करेगी।’

वरिष्ठ नेताओं को दिया साथ लेकर चलने का भरोसा
राहुल गांधी ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को साथ लेकर चलने का भरोसा देते हुए कहा कि हम यहां भविष्य की योजना बनाने बैठे हैं, लेकिन बीते कल को भी नहीं भूलते। उन्होंने कहा कि मैं मंच से कहना चाहता हूं कि यदि युवा कांग्रेस को आगे ले जाएंगे तो यह काम वरिष्ठ नेताओं के बिना नहीं हो सकता। कांग्रेस में राहुल के नेतृत्व में नई पीढ़ी और पुरानी पीढ़ी के नेताओं के बीच तालमेल को लेकर चिंता जताई जाती रही है। ऐसे में राहुल गांधी का वरिष्ठ नेताओं को साथ लेकर चलने का बयान मायने रखता है।

राहुल गांधी के भाषण की 10 बातें…
1. राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि देश में गुस्सा फैलाया जा रहा है, देश को बांटा जा रहा है.
2. देश के एक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति से लड़ाया जा रहा है. लेकिन हमारा और हमारी पार्टी का काम जोड़ने का काम है.
3. महाधिवेशन भविष्य की बात कर रहा है. हमारी परंपरा में बदलाव किया जाता है लेकिन बीते हुए समय को भूला नहीं जाता.
4. पार्टी में युवाओं की बात होती है. युवा कांग्रेस पार्टी को आगे ले जाएंगे तो वरिष्ठ नेताओं के बिना हमारी पार्टी आगे नहीं बढ़ सकती.
5. मेरा काम वरिष्ठ और युवा नेताओं को जोड़ने का काम है. उन्हें एक साथ लेकर पार्टी को एक नई दिशा दिखाने का काम है.
6. देश के करोड़ों थके युवा, जो मोदी जी की ओर देखते हैं तो उन्हें रास्ता नहीं दिखाई देता है. उन्हें समझ नहीं आता कि उन्हें रोजगार कहां से मिलेगा. किसानों को सही दाम कब मिलेगा.
7. देश एक प्रकार से थका हुआ है. रास्ता खोज रहा है. ऐसे में देश को सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही रास्ता दिखा सकती है.
8. कांग्रेस पार्टी और विपक्ष में बहुत बड़ा फर्क है. वो क्रोध और गुस्से का प्रयोग करते हैं और हम प्यार और भाईचारे का प्रयोग करते हैं.
9. ये देश सबका है, हर धर्म का है, हर जात का है हर व्यक्ति का है, जो भी काम कांग्रेस पार्टी करेगी वो पूरे देश के लिए करेगी. देश के हर व्यक्ति के लिए करेगी और किसी को पीछे नहीं छोड़ेगी.
10. सेशन का लक्ष्य देश को और कांग्रेस को रास्ता दिखाना है. ये अधिवेशन नेतृत्व का नहीं, कार्यकर्ताओं का है.

महाधिवेशन में दोपहर 3 बजे सोनिया गांधी भी पार्टी नेताओं को संबोधित करेंगी और तमाम बड़े मसलों पर राय रखेंगी. बता दें कि दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में कांग्रेस इस अधिवेशन का आयोजन किया गया है.

दोस्तों के साथ शेयर करे.....