Home खेल शिखर की फिफ्टी, भुवी का ‘पंच’, भारत ने साउथ अफ्रीका को 28...

शिखर की फिफ्टी, भुवी का ‘पंच’, भारत ने साउथ अफ्रीका को 28 रनों से हराया

0 68 views
Rate this post

जोहानिसबर्ग

3 मैचों की सीरीज के पहले टी-20 में शिखर धवन (72) की तूफानी फिफ्टी के बाद भुवनेश्वर कुमार (24/5) के करियर की बेस्ट बोलिंग की बदौलत भारत ने साउथ अफ्रीका को 28 रनों से हरा दिया। भारतीय टीम ने पहले बैटिंग करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 203 रन बनाए। जवाब में साउथ अफ्रीकी टीम 9 विकेट के नुकसान पर 175 रन ही बना सकी। इस जीत के साथ भारत ने सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है। मेजबान टीम के लिए सबसे अधिक हेड्रिक्स ने 50 गेंदों में 8 चौके और 1 छक्का की मदद से 70 रन बनाए। फरहान बेहरदीन ने 39 रनों की पारी खेली। अन्य कोई भी बल्लेबाज इंडियन बोलरों को झेल नहीं सका।

बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरे साउथ अफ्रीकी टीम ने शुरुआत तो अच्छी की, लेकिन भुवनेश्वर कुमार ने दो विकेट चटकाकर मेजबान टीम को दबाव में ला दिया। 29 रनों के टीम स्कोर पर स्मट्स (14) को भुवनेश्वर ने शिखर धवन के हाथों कैच कराया, जबकि कप्तान जेपी ड्यूमिनी सिर्फ 3 रन बनाकर सुरेश रैना के हाथों लपके गए। अब साउथ अफ्रीका का स्कोर 2 विकेट के नुकसान पर 38 रन हो गए।

साउथ अफ्रीका की पारी संभलती इससे पहले बदलाव के तौर पर गेंदबाजी करने आए हार्दिक पंड्या ने डेविड मिलर को आउट कर भारत को तीसरी सफलता दिला दी। मिलर 5 गेंदों में 9 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद रीजा हेंड्रिक्स और फरहान बेहरदीन ने जोरदार बैटिंग की और चौथे विकेट के लिए 81 रनों की साझेदारी कर डाली। खतरनाक होती इस जोड़ी को दौरे पर अबूझ पहली बने चहल ने तोड़ा। उन्होंने बेहरदीन को 39 रनों के निजी स्करे पर आउट किया। उन्होंने 27 गेंदों में 3 चौके और 2 छक्के लगाए।

एक ओवर में गिरे 4 विकेट, भारत का कमबैक
मेजबान टीम की उम्मीदों ने तब तोड़ दिया जब बदलाव के रूप में गेंदबाजी करने आए भुवनेश्वर कुमार ने पहले जोरदार बैटिंग कर रहे हेंड्रिक्स (70) को आउट किया। इसके बाद क्लासेन (16), क्रिस मॉरिस (0) को चलता कर मैच पूरी तरह भारत के पक्ष में कर दिया। इस ओवर के आखिरी बॉल पर पेटरसन (1) रन आउट हुए। इस तरह भुवनेश्वर के द्वारा फेंके गए 18वें ओवर में कुल 4 बल्लेबाज आउट हुए। अचानक 4 विकेट गिरने के बाद साउथ अफ्रीकी टीम पूरी तरह से दबाव में आ गई और 175 रन ही बना सकी। भुवनेश्वर के अलावा जयदेवर उनादकत, हार्दिक पंड्या और युजवेंद्र चहल को एक-एक विकेट मिला।

भारतीय पारी का रोमांच: शिखर की तूफानी फिफ्टी
इससे पहले भारतीय टीम ने शिखर धवन (72) की तूफानी फिफ्टी की बदौलत साउथ अफ्रीका को जीत के लिए 204 रनों का लक्ष्य दिया। ओपनर रोहित शर्मा (9 गेंदों में 21 रन) ने जिस अंदाज में पहले ही ओवर में 2 छक्के लगाकर मैच की तूफानी शुरुआत की, वह रोमांच अंत तक बना रहा। सुरेश रैना (7 गेंदों में 15 रन), विराट कोहली (20 गेंदों में 26 रन) और एमएस धोनी (11 गेंदों में 16 रन) ने छोटी, लेकिन आतिशी पारियां खेलीं, जिनकी बदौलत भारत ने 20 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 203 रन बनाए। मनीष पांडे 29 और हार्दिक पंड्या 13 रन बनाकर नॉट आउट रहे।

9 गेंदों में 21 रन बनाकर आउट हुए रोहित
टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी भारतीय टीम को रोहित शर्मा ने पहले ही ओवर में 2 छक्के लगाकर जोरदार शुरुआत दी, लेकिन वह बड़ी पारी नहीं खेल सके। वह दूसरे ओवर की 5वीं बॉल पर विकेटकीपर क्लासेन के हाथों लपके गए। करियर का पहला मैच खेल रहे जूनियर डाला की गेंद पर आउट होने वाले रोहित ने सिर्फ 9 गेंदों में 2 चौके और 2 छक्के की मदद से 21 रन की पारी खेली।

सुरेश रैना की आतिशी बैटिंग, 7 गेंदों में बनाए 15 रन
उनके आउट होने के बाद क्रीज पर आए ‘कमबैक मैन’ सुरेश रैना ने भी आतिशी बैटिंग करनी शुरू की। उन्होंने तीसरा ओवर करने आए पेटरसन को लगातार चौका और छक्का लगाया। हालांकि, अगले ही ओवर में जूनियर डाला को बड़ी हिट लगाने के चक्कर में आउट हो गए। उन्होंने 7 गेंदों में 2 चौके और 1 छक्का की मदद से 15 रन बनाए। जब रैना आउट हुए तो भारत का स्कोर 4.5 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 49 रन था।

8.2 ओवर में भारत के 100 रन
इसके बाद तूफानी बैटिंग का जिम्मा शिखर धवन ने संभाला और इसका नतीजा यह रहा कि 5 ओवर के बाद भारत का स्कोर 2 विकेट पर 60 रन हो गए। यह स्कोर 7 ओवर में बढ़कर 84/2 हो गया। इस दौरान तबरेज शम्सी की बॉल पर सीमारेखा के पास फरहान बेहरदीन ने विराट कोहली का कैच छोड़ दिया। इस वक्त भारतीय कप्तान ने सिर्फ 10 रन बनाए थे। भारत ने अपने 100 रन 8.2 ओवर में पूरे किए।

विराट 26 तो शिखर 72 रन बनाकर आउट
इसके कुछ ही देर बाद भारतीय कप्तान कोहली 26 के निजी स्कोर पर तबरेज शम्सी की बॉल पर स्टंप के आगे पकड़े गए। उन्होंने 20 गेंदों में 2 चौके और 1 छक्का लगाए। उनके और शिखर के बीच तीसरे विकेट के लिए 59 रनों की पार्टनरशिप हुई। इसके बाद शिखर और मनीष पांडे ने चौथे विकेट के लिए 47 रन जोड़े। इस दौरान धवन ने सिर्फ 27 गेंदों में टी-20 करियर का चौथा पचासा पूरा किया। उन्हें फेहलुकवायो की गेंद पर क्लासेन ने कैच आउट किया। शिखर ने 39 गेंदों में 10 चौके और 2 छक्के लगाए।

पूर्व भारतीय कप्तान धोनी 11 गेंदों में 16 रन बनाकर आउट हुए, जबकि मनीष पांडे 27 गेंदों में 29 और हार्दिक पंड्या 7 गेंदों में 13 रन बनाकर नॉट आउट रहे। मेजबान टीम के लिए जूनियर डाला ने 2 विकेट झटके, जबकि क्रिस मॉरिस, तबरेज शम्सी और फेहलुकवायो को 1-1 विकेट मिला।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....