Home भेल न्यूज़ वेतन निर्धारण न होने के कारण हर कर्मचारी को लगभग 50000 तक...

वेतन निर्धारण न होने के कारण हर कर्मचारी को लगभग 50000 तक का आर्थिक नुकसान

बारिश में वेज रिविजन को लेकर इंटक के सैकड़ों कर्मचारियों ने किया सत्याग्रह

भोपाल

इंटक के अध्यक्ष आरडी त्रिपाठी के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कर्मचारियों ने फ ाउंड्री गेट के सामने सत्याग्रह कर सभा का आयोजन किया। सभा को संबोधित करते हुए इंटक अध्यक्ष आरडी त्रिपाठी ने कहा केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उद्यम के लिए वेतन समझौता वार्ता के आठवे चक्र के लिए बनाई गई वेतन निर्धारण नीति में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि जहां वेतन निर्धारण की 10 वर्ष की सामान्य अवधि सीमा 31 दिसंबर 16 को समाप्त हो चुकी है, ऐसे में 1 जनवरी 17 से वेतन निर्धारण होना चाहिए। लेकिन वेतन निर्धारण न होने के कारण प्रत्येक कर्मचारी को लगभग 10 से 50 हजार तक का आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है।

श्री त्रिपाठी ने कहा की अब भेल के प्रत्येक कर्मचारी को एकजुट होकर वेज रिवीजन के लिए संघर्ष करना होगा। युवा इंटक के अध्यक्ष दीपक गुप्ता ने कहा कि आठवें वेज रिवीजन के लिए भेल के सभी युवा कर्मचारी संघर्ष के लिए तैयार रहें। हम सही वेज रिवीजन का लाभ तभी पा सकते हैं जब एकजुट हो।

सभा में इंटक के उपाध्यक्ष व्हीएस राठौर, गौतम मोरे, कोषाध्यक्ष राजेश शुक्ला, सुनील महाले, सीआर नामदेव, यूथ इंटक के प्रदेशाध्यक्ष मिथलेश तिवारी, युवा इंटक अध्यक्ष दीपक गुप्ता, रणजीत सिंह, सुशील सपकाल, प्रणय सरकार, सुरेश मेहरा, प्रदीप मालवीया, कंचन कुजूर, रामलाल मेहरा, गुलबेक, संतोष सिंह, मनोज चौकसे सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

बीएमएस ने सामूहिक भोज कर जताया विरोध
बीएमएस ने भेल कर्मचारियों की ज्वलंत समस्याओं को लेकर बुधवार को सामूहिक भोज कर विरोध जताया। विरोध भेल कर्मचारियों का वेज रिवीजन, अनुकम्पा नियुक्ति और न्युन्तम 10000 प्रति माह एडहॉक राशि और वेज रिवीजन लागू होने तक दी जाये। विरोध में बीएमएस कार्यकर्ता तथा बड़ी संख्या में कर्मचारी शामिल हुए। सामूहिक भोज के इस कार्यक्रम में केंटीन नंबर 1 के कर्मचारियों ने व्यवस्था संभालने के लिए मुस्तैदी से काम किया।

Did you like this? Share it: