Home राज्य TMC का पोस्टर वार, बैनरों पर लिखा- ‘ANTI-BENGAL BJP GO BACK’

TMC का पोस्टर वार, बैनरों पर लिखा- ‘ANTI-BENGAL BJP GO BACK’

कोलकाता,

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की शनिवार को कोलकाता में होने वाली रैली से पहले आयोजन स्थल के आसपास बीजेपी विरोधी पोस्टर-बैनरों की रातों-रात भरमार हो गई. पार्क स्ट्रीट के सामने मायो रोड पर ऐसे बैनर लगे देखे गए जिन पर लिखा था- ‘ANTI-BENGAL BJP GO BACK’ (बंगाल विरोधी बीजेपी वापस जाओ). पार्क स्ट्रीट पर ही अमित शाह की रैली का आयोजन होना है.

ऐसे पोस्टर-बैनरों के अलावा टीएमसी के सैकड़ों झंडे और ममता बनर्जी की तस्वीर वाले पोस्टर भी आयोजन स्थल के आसपास लगे देखे जा सकते हैं. कम से कम यह तीसरा मौका है जब टीएमसी ने बीजेपी के खिलाफ इस तरह का पोस्टर युद्ध छेड़ा है.

पश्चिम बंगाल के लिए बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने टीएमसी नेतृत्व पर सस्ते हथकंडे अपनाने का आरोप लगाया है. विजयवर्गीय ने कहा, ‘ये ममता बनर्जी का हमारे अभिवादन का तरीका है, लेकिन उन्हें याद रखना चाहिए कि हनुमान की पूंछ में आग लगाकर अभिवादन करने का रावण को क्या परिणाम भुगतना पड़ा था, इसी तरह उन्हें भी बंगाल में परिणाम भुगतने पड़ेंगे.’पिछले महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मिदनापुर में रैली के दौरान पूरे रूट को ममता बनर्जी की 21 जुलाई को हुई शहीद दिवस रैली के पोस्टरों से पाट दिया गया था.

इसी साल जून में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह बीरभूम के तारापीठ धर्मस्थल पर आए थे तो एक दिन पहले रामपुरहाट के उनके पूरे रूट पर ममता बनर्जी और टीएमसी के जिला अध्यक्ष अनुव्रत मोंडल के कट आउट लगे देखे गए थे. हेलीपेड से आयोजन स्थल के 5 किलोमीटर लंबे रूट पर लगे ममता बनर्जी के बड़े बड़े कट आउट पर तब हिंदी में लिखा गया था- ‘तारापीठ में आए हुए सभी भक्त वृंदों को हार्दिक अविनंदा’.

‘हम उनकी दया पर नहीं’
बंगाल बीजेपी के प्रमुख दिलीप घोष ने कहा, ‘अगर ये टीएमसी का शिष्टाचार है तो बेहतर है कि वो इसे ना दिखाए. हम उनकी दया पर नहीं हैं. अधिकतर राज्यों में हम अपने बूते आए हैं और यहां भी आएंगे.’वहीं, टीएमसी महासचिव पार्थ चटर्जी ने एलान किया कि उनकी पार्टी असम में NRC मुद्दे को लेकर शनिवार और रविवार को राज्यव्यापी आंदोलन करेंगे. इस पर बीजेपी के बंगाल अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘यह एक और हथकंडा है जिससे कि बीजेपी समर्थकों को कोलकाता में अमित शाह की रैली में आने से रोका जा सके.’

Did you like this? Share it: