Home राष्ट्रीय दिल्ली : अपराध की ‘गॉड मदर’ गिरफ्तार, 113 केस दर्ज

दिल्ली : अपराध की ‘गॉड मदर’ गिरफ्तार, 113 केस दर्ज

नई दिल्ली

दिल्ली की टॉप-5 महिला बदमाशों की लिस्ट में शामिल बशीरन बेगम को संगम विहार पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 8 महीने से उसकी तलाश जारी थी। पुलिस का कहना है कि उसके 8 बेटे हैं, सभी बदमाशी में शामिल हैं। बशीरन पर कई केस हैं। इनमें से एक कॉन्ट्रैक्ट किलिंग से जुड़ा है। इस मामले में एक शख्स की हत्या के बाद शव को जला दिया गया था। बशीरन और उसके परिवार पर लूट, हत्या, फिरौती, अवैध रूप से शराब बेचने, झपटमारी और कॉन्ट्रैक्ट किलिंग से जुड़े 113 मामलों में शामिल है।

साउथ दिल्ली के डीसीपी रोमिल बानिया ने बताया कि बशीरन उर्फ ममी (62) को संगम विहार इलाके में ‘गॉडमदर’ कहा जाता था। 8 महीने से इसकी जोर-शोर से तलाश की जा रही थी। वह फरार थी। उसे भगोड़ा घोषित किया गया था। पुलिस ने कोर्ट की मदद से उसके घर को भी सील कर दिया था। सील खुलवाने के लिए बशीरन ने हाई कोर्ट और निचली अदालत में दो ऐप्लिकेशन लगाई थीं। पुलिस के पुरजोर विरोध करने पर दोनों अपील कोर्ट ने खारिज कर दी थीं।

डीसीपी ने बताया कि बशीरन को शुक्रवार को संगम विहार थाने के एसएचओ उपेंद्र सिंह और उनकी टीम ने गिरफ्तार किया। उसके एक बेटे शमीम उर्फ गूंगा पर मकोका भी लगा हुआ है। पुलिस ने बताया कि पिछले साल सितंबर में उसने 60 हजार रुपये लेकर एक कॉन्ट्रैक्ट किलिंग कराई थी। शव को जंगल में जला दिया गया था। पुलिस को अधजला शव मिला था। बाद में मृतक की पहचान होने पर कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने बताया कि यह काम बशीरन ने कराया था। इसके बाद से उसकी इस केस में भी तलाश थी। वह फरार चल रही थी। उसे पकड़ने के लिए पुलिस ने उसके घर तक को सील करा दिया था। उसे संगम विहार इलाके से ही गिरफ्तार किया गया।

पुलिस ने बताया कि आगरा जिले की रहने वाली बशीरन की शादी धौलपुर (राजस्थान) के रहने वाले मलखान से हुई थी। 1982 के आसपास वह अपने परिवार के साथ गोविंदपुरी नवजीन कैंप झुग्गी में आकर बस गई थी। इसके बाद यह संगम विहार इलाके में शिफ्ट हो गई। बशीरन के बेटों के नाम वकील, शकील, शमीम, सलमान, फैजल, सनी और राहुल हैं।

पुलिस के अनुसार, ‘बशीरन बेगम की गिनती दिल्ली के टॉप 5 बदमाशों में से की जाती है। उस पर कॉन्ट्रैक्ट किलिंग, लूटपाट, धमकाने, जबरन वसूली जैसे कई केस दर्ज हैं। अपराध की इस दुनिया में उसके साथी उसके बेटे थे। बशीरन के 8 बेटों में से एक अभी नाबालिग है। बशीरन उर्फ ममी ने दिल्ली हाई कोर्ट और साकेत कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दी है।’

Did you like this? Share it: