Home राज्य बीमार CM पर्रिकर ने शाह से किया ‘वैकल्पिक व्यवस्था’ का अनुरोध

बीमार CM पर्रिकर ने शाह से किया ‘वैकल्पिक व्यवस्था’ का अनुरोध

नई दिल्ली,

लंबे समय से बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह से अनुरोध करते हुए कहा है कि राज्य के नेतृत्व के लिए वैकल्पिक व्यवस्था कराई जाए. मनोहर पर्रिकर का इलाज होने में लंबा वक्त लग सकता है, इसलिए उन्होंने पार्टी से कोई वैकल्पिक व्यवस्था करने का अनुरोध किया है. पार्टी से जुड़े सूत्रों के अनुसार, पर्रिकर ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को फोन कर कहा है कि राज्य में नेतृत्व के लिए कोई दूसरी व्यवस्था की जाए. उनके अनुरोध के बाद बीजेपी की ओर से अब वहां के हालात का जायजा लेने पार्टी महासचिव रामलाल और बीएल संतोष बतौर केंद्रीय पर्यवेक्षक भेजे जाएंगे. दोनों पर्यवेक्षक यहां के हालात पर केंद्र को रिपोर्ट देंगे.

इससे पहले मुख्यमंत्री पर्रिकर को बृहस्पतिवार शाम को कैंडोलिम के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराए जाने को लेकर पुष्टि भी की, लेकिन उन्होंने उनकी तबीयत के बारे में ब्योरा देने से इंकार कर दिया.हालांकि विधानसभा के उपाध्यक्ष और बीजेपी विधायक माइकल लोबो ने बाद में कहा था कि उन्होंने अस्पताल में पर्रिकर से भेंट की और वह ठीक हैं.

पर्रिकर इलाज कराकर सितंबर के पहले सप्ताह में अमेरिका से लौटे थे. पिछले हफ्ते लौटने के बाद से पर्रिकर ने किसी सरकारी बैठक में भाग नहीं लिया.हालांकि मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारियों ने दावा किया था कि वह घर से ही फाइलें निपटा रहे हैं और गणेश चतुर्थी उत्सव समाप्त होने के बाद वह बैठकों और कार्यक्रमों में जाने लगेंगे.

कांग्रेस ने उठाए सवाल
इससे पहले मुख्यमंत्री पर्रिकर की सेहत पर कांग्रेस ने बार-बार सवाल उठाती रही है. कांग्रेस का कहना है कि पर्रिकर पहले अपना फिटनेस सर्टिफिकेट दें, उसके बाद काम करें. मुख्यमंत्री के अक्सर अनुपस्थित रहने तथा उनकी कैबिनेट के 2 अन्य सहकर्मियों के अस्पताल में भर्ती होने के की बात कहते हुए कांग्रेस नेताओं ने पिछले हफ्ते गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा से हस्तक्षेप की मांग की.

राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी ने कहा कि पर्रिकर को काम पर लौटने से पहले फिटनेस प्रमाणपत्र देना चाहिए. मुख्यमंत्री को किस तरह की बीमारी है, उस बारे में पता नहीं चल पाया है. वहीं, दो अन्य मंत्री गंभीर बीमारियों के चलते अस्पताल में भर्ती हैं. पर्रिकर (62) इससे पहले भी इलाज के लिए अमेरिका में करीब तीन महीने रहे थे. उन्हें किस तरह की बीमारी है, उस बारे में कोई भी आधिकारिक बयान नहीं आया है. हालांकि, यह बताया गया कि उनके अग्नाशय की बीमारी का इलाज चल रहा है.

Did you like this? Share it: