Home भोपाल सैयदना साहब ने मेरा हाथ चूमा, वो स्पर्श आजतक जिंदा है: शिवराज

सैयदना साहब ने मेरा हाथ चूमा, वो स्पर्श आजतक जिंदा है: शिवराज

इंदौर

पीएम मोदी शुक्रवार को इंदौर में दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय के मजलिस में शामिल हुए. यहां पर पीएम मोदी ने सैफी मस्जिद में बोहरा समुदाय के 53वें धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन के कार्यक्रम में शामिल हुए. पीएम मोदी के साथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे. इस दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों को संबोधित किया और बोहरा समुदाय की जमकर तारीफ की. उन्होंने उस पल को भी याद किया जब सैयदना साहब ने उनके हाथ को चूमा था.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं उज्जैन कभी भूल नहीं सकता. मुझे सैयदना साहब से मिलने का मौका मिला था. उन्होंने मेरा हाथ चूमा, वो स्पर्श आज भी मेरे साथ है और मुझे उर्जा देता है. हज़रत इमाम हुसैन की शहादत के स्मरणोत्सव ‘अशरा मुबारका’ में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश खुशकिस्मत है, इंदौर सौभाग्यशाली है कि सैयद साहब के चरण यहां पड़े हैं. मैंने अनुरोध किया था कि वह इंदौर की धरती पर जरूर आएं.

एमपी के सीएम ने कहा कि उन्होंने हमारे निमंत्रण को स्वीकार किया. मैं उन्हें बहुत धन्यवाद देता हूं कि मध्य प्रदेश को यह सौभाग्य उन्होंने दिया है. उन्होंने कहा कि हमारे पीएम जो देश और देश की जनता को आगे बढ़ाने में दिन और रात लगे हुए हैं वो यहां पर आए, यह हमारी खुशकिस्मती है. यहां पर मौजूद लोगों को देखकर लगता है कि सबसे प्यार करने वाला कोई समाज है तो वह बोहरी समाज ही है.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज का दिन भारत के इतिहास में ऐतिहासिक होने वाला है. प्रधानमंत्री का सपना है कि 2022 तक हर किसी के सिर पर छत हो, बोहरा समाज और हमारे प्रधानमंत्री दोनों ही गरीबों के दुख दूर करने में लगे हुए हैं. बता दें कि सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन इंदौर 20 दिवसीय दौरे पर आए हैं. इस दौरान वे प्रवचन देने के साथ तीन मस्जिदों का उद्घाटन भी करेंगे. बोहरा समुदाय के धर्मगुरु से मिलने और उनके प्रवचन को सुनने के लिए 40 से ज्यादा देशों के करीब 1.7 लाख लोगों के इंदौर पहुंचने की उम्मीद है.

Did you like this? Share it: