Saturday , January 19 2019
Home / ग्लैमर / #MeToo पर बप्पी लाहिड़ी- जब उत्पीड़न हुआ तब क्यों नहीं किया FIR

#MeToo पर बप्पी लाहिड़ी- जब उत्पीड़न हुआ तब क्यों नहीं किया FIR

नई दिल्ली,

बॉलीवुड में #MeToo पर महिलाओं की आपबीती के बाद कई सेलिब्रिटीज सवालों के घेरे में हैं. मीटू कैम्पेन के पक्ष और विपक्ष में तमाम सितारे अपनी राय दे रहे हैं. इस बीच गायक-संगीतकार बप्पी लाहिड़ी ने भी बयान दिया है. उन्होंने कहा, “महिलाओं को यौन उत्पीड़न की शिकायत उस वक्त करनी चाहिए थी, जब यह घटना उनके साथ हुई.”

बप्पी ने सोमवार को फिल्म “मौसम इकरार के दो पल प्यार के” के म्यूजिक लॉन्च पर मीडिया से इस मुद्दे पर बात की. उन्होंने कहा, “भारत में हम महिलाओं का सम्मान करते हैं चाहे वह मां हो, बहन हो, बेटी हो या पत्नी हो. मैं हर साल छह महीने अमेरिका में रहता हूं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि हमारे देश जैसी खूबसूरत संस्कृति पूरी दुनिया में कहीं और है.”

उन्होंने कहा, “मीटू मूवेमेंट हॉलीवुड में चल रहा है, लेकिन भारत में महिलाएं मीडिया और सोशल मीडिया पर दशकों पुरानी घटनाएं ला रहीं हैं. इसलिए मेरा कहना यह है कि उस वक्त मामला क्यों नहीं उठाया गया था, जब ये सब हुआ था. तब शिकायत क्यों नहीं दर्ज करवाई, एफआईआर क्यों नहीं लिखवाई गई? अगर इन चीजों का खुलासा पहले होता तो उन्हें इसके लिए न्याय मिलता.”

बप्पी ने कहा “हम ‘मौसम इकरार के दो पल प्यार के’ फिल्म का संगीत लॉन्च कर रहे हैं. अगर इस फिल्म के बारे में हम 10 साल बाद बात करेंगे तो इसका कोई मतलब नहीं होगा.”

बता दें कि तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर “हॉर्न ओके प्लीज” का किस्सा साझा करते हुए आरोप लगाया था कि सेट पर उनका उत्पीड़न किया गया. उन्हें डराया धमकाया गया. उनकी कहीं सुनवाई नहीं हुई. तनुश्री के इन आरोपों ने बॉलीवुड में बहस छेड़ दी जिसके बाद कई महिलाओं ने तमाम सेलिब्रिटीज पर गंभीर आरोप लगाए. मीटू पर जो बड़े नाम सवालों के घेरे में आए हैं उनमें आलोक नाथ, विकास बहल, विवेक अग्निहोत्री, कैलाश खेर जैसे दर्जनों नाम शामिल हैं.

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

BARC रेटिंग में खतरों के खिलाड़ी नंबर 1, कपिल शर्मा का शो दूसरे नंबर पर

नई दिल्ली, BARC Rating chart छोटे पर्दे की दुन‍िया में इस हफ्ते नए र‍ियल‍िटी शो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)