Thursday , December 13 2018
Home / भोपाल / सिंधी समाज और विधायक विवाद, मुख्यमंत्री ने कहा- मामले की जांच कराई जाएगी

सिंधी समाज और विधायक विवाद, मुख्यमंत्री ने कहा- मामले की जांच कराई जाएगी

भोपाल

जिले की हुजूर विधानसभा क्षेत्र से विधायक रामेश्वर शर्मा की सिंधी समाज के प्रति की गई अभद्र टिप्पणी का मामला भोपाल के साथ-साथ गुजरात तक पहुंच गया है। भोपाल में बुधवार को सिंधी समाज ने अपने विरोध स्वरुप अपने व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रखे हैं। इधर खबर है कि इस मामले से खफा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने रामेश्वर शर्मा को सीएम हाउस तलब किया।

भोपाल में आज सिंधी समाज के व्यावसायिक प्रतिष्ठान पूरी तरह बंद हैं। विधायक रामेश्वर शर्मा पर कानूनी कार्रवाई को लेकर सिंधी सेंट्रल पंचायत के तत्वावधान में लिली टाकीज स्थित नीलम पार्क पर सिंधी समाज द्वारा प्रदेश व्यापी धरना दिया जा रहा है। सिंधी सेंट्रल पंचायत के अध्यक्ष भगवानदेव ईसरानी ने कहा है विरोध स्वरूप भोपाल के व्यवसायी 2 बजे तक दुकाने बंद रखेंगे। मंगलवार को गुजरात के भावनगर शहर में सिंधी समाज ने रामेश्वर शर्मा का पुतला दहन कर चेतावनी दी कि अगर भाजपा ने उनके ऊपर कार्रवाई नहीं की तो प्रदेशव्यापी बंद किया जाएगा।

मुख्यमंत्री के सामने रामेश्वर ने दी सफाई: मामले के तूल पकड़ने के बाद बुधवार सुबह रामेश्वर शर्मा को मुख्यमंत्री ने अपने आवास पर मिलने बुलाया था। कैबिनेट की मीटिंग के बाद पत्रकारों के इस संबंध में पूछे जाने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने रामेश्वर शर्मा को इस मामले में सफाई देने बुलाया था। लेकिन उन्होंने जो आरोप लगाए जा रहे उससे इनकार किया है। अब इस मामले की जांच कराई जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंधी समाज देशभक्त है, उनकी देश के प्रति निष्ठा पर सवाल नहीं उठाए जा सकते।

क्या है मामला : चुनाव प्रचार के दौरान रामेश्वर शर्मा का एक आडियो वायरल हुआ था। जिसमे विधायक रामेश्वर शर्मा सिंधी समाज को लेकर अपशब्द कहे गए हैं। हालांकि विधायक ने इस ऑडियो को फर्जी बताते हुए कांग्रेस की साजिश करार दिया था।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

मध्य प्रदेश चुनाव: कर्जमाफी के वादे ने कांग्रेस के लिए बनाया माहौल

भोपाल मध्य प्रदेश की सत्ता में 15 साल बाद वापसी करने वाली कांग्रेस को चुनाव …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)