Thursday , December 13 2018
Home / राज्य / छत्तीसगढ़: मतगणना में कोई गड़बड़ी ना होने देने कांग्रेस ने कसी कमर

छत्तीसगढ़: मतगणना में कोई गड़बड़ी ना होने देने कांग्रेस ने कसी कमर

नई दिल्ली,

छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और मिजोरम में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान पहले ही संपन्न हो चुका है. राजस्थान और तेलंगाना में शुक्रवार 7 दिसंबर को मतदान होना है. पांचों राज्यों के लिए 11 दिसंबर को मतगणना होनी है. जिन राज्यों में मतदान संपन्न हो चुका है, वहां कांग्रेस मतगणना के लिए कमर कस कर तैयारी कर रही है. कांग्रेस की कोशिश है कि 11 दिसंबर को मतगणना के दौरान कहीं कोई कमी ना रह जाए.

छत्तीसगढ़ में मतगणना के लिए भी कांग्रेस ने खास तैयारी की है. छत्तीसगढ़ कांग्रेस से जुड़े सभी दिग्गज नेताओं ने रायपुर में दो बार बैठक की. छत्तीसगढ़ के लिए कांग्रेस के प्रभारी इंचार्ज पी एल पुनिया ने पार्टी उम्मीदवारों और बूथ एजेंटों को कई एहतियाती कदम बताए जिनसे मतगणना के दिन सब कुछ सुचारू रूप से होना सुनिश्चित किया जा सके. पुनिया ने कहा, ‘बीजेपी गड़बड़ियों की माहिर है. ऐसे में कुछ भी गलत ना हो सके, ये सुनिश्चित करने के लिए हमने मतगणना वाले दिन के लिए रणनीति बनाई है.’

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के नेता पार्टी के बूथ एजेंटों को भी प्रशिक्षण देने के लिए पूरा समय दे रहे हैं. पुनिया ने बताया, ‘बूथ एजेंटों को ट्रेनिंग देने के साथ उम्मीदवारों को बताया जा रहा है कि जब तक उन्हें मतगणना स्थलों पर सर्टिफिकेट ना मिल जाएं, वे वहां से नहीं हटें.’राज्य पार्टी नेतृत्व ने ये हिदायत भी जारी की है कि जीतने वाले उम्मीदवार विजय जुलूस निकालने की जगह अपने सर्टिफिकेट के साथ तत्काल रायपुर के लिए रवाना हों.

पोलिंग एजेंट्स को भी समझाया जा रहा है कि उन्हें मतगणना के दौरान चौकन्ना रहना है. साथ ही उन्हें ऐसी फेहरिस्त भी सौंपी जा रही है जिसमें बताया क्या गया है कि मतगणना के दिन क्या क्या करना है और क्या क्या नहीं करना है.

छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने ऐसी कई छोटी टीमों का भी गठन किया है जो उन स्ट्रॉन्ग रूम्स पर बारीकी से नज़र रखेंगी जहां इस्तेमाल की गई EVMs को रखा गया है. पुनिया ने कहा, ‘इन टीमों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है जिससे कि बिना इस्तेमाल की गई EVMs को इस्तेमाल हो चुकीं EVMs के साथ मतगणना वाले दिन मिलाने की कोई कोशिश ना हो सके. हम कोई चांस नहीं ले सकते.’

छत्तीसगढ़ के पार्टी नेताओं से लगातार मिलने वाले कांग्रेस के वयोवृद्ध नेता मोतीलाल वोरा ने कहा, EVMs पर गहन नजर रखी जाएगी. मतगणना के दिन हमें बहुत सतर्क रहने की आवश्यकता है. उम्मीदवारों और एजेंटों से कहा गया है कि उन्हें कहीं कुछ संदिग्ध लगे तो उसे तत्काल चुनाव कमेटी के अधिकारियों के संज्ञान में लाएं. जिससे कि बाद में वे ये ना कह सकें कि हमारे संज्ञान में ये मामला नहीं आया.’

कांग्रेस वोटों के टेबुलेशन को लेकर भी बहुत सतर्क है. पुनिया ने बताया, एजेंटों की ओर से वोटों की टेबुलेशन लिस्ट सावधानी से बनाई जानी चाहिए. ये भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि एक राउंड के वोटों का टेबुलेशन पूरा हो जाने के बाद ही अगले राउंड के लिए टेबुलेशन शुरू होना चाहिए.’ कांग्रेस सांसद टी साहू ने कहा, बीजेपी जिस तरह सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करती है, उसे देखते हुए हमें बहुत सतर्क रहना चाहिए. हमने कुछ ऐहतियाती कदम उठाए हैं और मतगणना वाले दिन के लिए हम तैयार हैं.”

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

BJP नेता का बयान- कहीं RBI को इतिहास न बना दें शक्तिकांत दास

नई दिल्ली पीएम मोदी (PM Modi) की डिग्री को लेकर तो शुरू से ही कई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)