Tuesday , March 19 2019
Home / Featured / बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में शाह बोले, 2019 वैचारिक युद्ध

बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में शाह बोले, 2019 वैचारिक युद्ध

नई दिल्ली

बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन के पहले दिन शुक्रवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि 2019 का चुनाव एक तरह का वैचारिक युद्ध है। यह दो विचारधाराओं की लड़ाई है। BJP प्रेजिडेंट ने कहा कि 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसलिए एनडीए के 35 दल नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एकजुट हैं। कांग्रेस और समूचे विपक्ष पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि विरोधियों के पास न नेता है और न नीति।

उन्होंने कहा कि मराठा एक युद्ध हारे थे तो देश 200 साल के लिए गुलाम हो गया था। 2019 की स्थिति भी आज उसी तरह की है। उन्होंने कहा कि 2014 में 6 राज्यों में बीजेपी की सरकारें थीं और आज 16 राज्यों में हमारी सरकार है। दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित अधिवेशन में उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं से कहा कि 2019 में मोदी की सरकार बनवा दीजिए, केरल तक बीजेपी सरकार बना लेगी।

‘गठबंधन ढकोसला, मोदी जैसा नेता दुनिया में नहीं’
शाह ने कहा कि पूरी दुनिया में नरेंद्र मोदी जैसा नेता किसी दल के पास नहीं है। गठबंधन को लेकर बनते समीकरणों पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा कि यह गठबंधन ढकोसला है। विपक्षी दलों के गठबंधन की पहल को ढकोसला करार देते हुए शाह ने कहा कि बीजेपी गरीबों के कल्याण और सांस्कृतिक राष्ट्रवाद को आगे बढ़ा रही है जबकि विपक्षी दल केवल सत्ता के लिए साथ आ रहे हैं।

‘UP में 73-74 सीटें जीतेंगे’
उन्होंने दावा किया कि बीजेपी अगले चुनाव में उत्तर प्रदेश में 73 से 74 सीटें जीतेगी। स्वच्छता, गंगा के पानी के शुद्धिकरण, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ जैसी योजनाओं का जिक्र कर शाह ने बीजेपी सरकार की प्रशंसा की।

राम मंदिर पर बोले, उसी स्थान पर बनेगा
काफी समय से चर्चा में रहे अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे पर भी शाह ने बोला। उन्होंने कहा कि बीजेपी चाहती है कि जल्द से जल्द उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण हो और इसमें कोई दुविधा नहीं हैं। इस पर अधिवेशन में राम के नारे लगने लगे। शाह ने आगे कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा है। हम प्रयास कर रहे हैं कि जल्द से जल्द केस का निपटारा हो। हमने कहा है कि संवैधानिक तरीके से मामले का निपटारा हो लेकिन कांग्रेस अड़ंगा डालने का काम कर रही है।’ उन्होंने कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता आश्वस्त रहें, हम राम मंदिर बनाने के लिए कटिबद्ध हैं।

राहुल-सोनिया पर निशाना
शाह ने कहा कि कुछ समय से जो स्वयं जमानत पर हैं, जिन पर इनकम टैक्स का 600 करोड़ रुपये बकाया हो, ऐसे लोग पीएम मोदी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि जनता की सूझबूझ आपसे बहुत ज्यादा है। कांग्रेस पार्टी राफेल डील में भ्रष्टाचार का आरोप लगा रही है। इस पर शाह ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में हर रक्षा सौदे में दलाली हुई, अब मिशेल मामा पकड़े गए हैं तो वे पसीना-पसीना हो रहे हैं।

‘5 साल में 50 से ज्यादा ऐतिहासिक फैसले’
उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल में 50 से ज्यादा ऐतिहासिक फैसले लिए गए। शाह ने कहा कि साढ़े चार वर्षों में 9 करोड़ शौचालय बनाकर माताओं और बहनों को शर्म से मुक्त करके सम्मान के साथ जीने का अधिकार बीजेपी सरकार ने दिया है। 2014 तक 60 करोड़ घर ऐसे थे जिनके पास अपना बैंक अकाउंट नहीं था, लेकिन मोदी सरकार ने एक झटके में ही इन सभी का अकाउंट बैंक में खोल दिया।

उन्होंने कहा कि तीन तलाक, हज सब्सिडी, सिख दंगों के पीड़ितों को न्याय मिला, हम NRC लेकर आए हैं और बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान से आए हिंदू, जैन और सिखों को नागरिकता देने का फैसला भी मोदी सरकार ने किया। शाह ने कहा कि पिछली सरकारों ने सुभाष चंद्र बोस को भुला दिया था। हमने करतारपुर कॉरिडोर के जरिए सिखों की बड़ी मांग को पूरा करने का भी काम किया।

एक हफ्ते में 2 बड़े फैसले की बात
अपने भाषण की शुरुआत में ही अमित शाह ने कहा कि पिछले एक हफ्ते में ही पीएम मोदी की सरकार ने दो बड़े फैसले लिए हैं। पहला फैसला- सामान्य वर्ग के लोगों को शिक्षा और रोजगार में 10% आरक्षण देने का है, जिसे न सिर्फ कैबिनेट ने मंजूर किया बल्कि संसद के दोनों सदनों में पास भी करा लिया गया। दूसरे फैसले के बारे में बताते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि जीएसटी लागू होने के बाद हर बैठक में एक के बाद एक वस्तुओं के दाम कम करना, शुरुआती दिक्कतें दूर करने का काम हम कर रहे थे। एक दिन पहले ही यह फैसला हुआ कि 40 लाख तक टर्नओवर वाले कारोबारियों को जीएसटी रजिस्ट्रेशन और ट्रैक्स से छूट दी जाएगी। उन्होंने कहा कि कंपोजिट प्लान के तहत 1.5 करोड़ रुपये तक टर्नओवर वाले कारोबारी को केवल 1% टैक्स देना होगा।

मोदी का भाषण कल
आपको बता दें कि दो दिवसीय बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक शुक्रवार को दिल्ली में शुरू हुई है। शुक्रवार को अधिवेशन में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी भी मौजूद रहे। कल शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण होगा।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

बीजेपी के ‘चौकीदार’ का हार्दिक ने ‘बेरोजगार’ लिखकर दिया जवाब

नई दिल्ली, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर पलटवार के लिए शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)