Tuesday , March 19 2019
Home / कॉर्पोरेट / सरकार ने एयरलाइन्स को चेताया, स्थिति देख विमानों का किराया न बढ़ाएं

सरकार ने एयरलाइन्स को चेताया, स्थिति देख विमानों का किराया न बढ़ाएं

नई दिल्ली

एथोपियन विमान दुर्घटना के बाद दुनियाभर के कई देशों ने बोइंग मैक्स विमानों पर रोक लगा दी है। भारत ने भी इन विमानों पर रोक लगाई है साथ ही बुधवार को बाहर से आने वाले बोइंग विमानों पर भी बैन लगा दिया गया है। इस फैसले के बाद स्पाइसजेट के 12 विमान खड़े हो गए हैं। बताया जा रहा है कि गुरुवार को स्पाइसजेट की 520 उड़ानों में से 35 कैंसल रहेंगी। उधर भुगतान की परेशानी की वजह से जेट एयरवेज और इंडिगो भी उड़ानें रद्द कर रहा है। इस परिस्थिति में हवाई किराया बढ़ने के आसार हैं। डीजीसीए ने एयरलाइनों को चेताया है कि परिस्थितियों का फायदा उठाकर किराया न बढ़ाएं, इससे यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ेगी।

स्पाइसजेट के 205 B737 मैक्स विमान हैं और जब तक सुरक्षा के सभी मानकों पर यह सही नहीं पाया जाएगा, और विमान नहीं लेगा। कई देशों द्वारा इन विमानों पर रोक लगाए जाने के बाद अमेरिका से भारत में भी इनकी डिलिवरी नहीं हो पाएगी। सीविल एविएशन के डीजी बीएस भुल्लर ने यूएस फेडरल एविएशन ऐडिमिनिस्ट्रेश और बोइंग से भी सुरक्षा के मानकों के बारे में बात की है।

भुल्लर ने कहा, ‘हमें जो बातें बताई गईं बहुत सामान्य हैं। जो परेशानियां हमने बताईं, उनका कोई समाधान नहीं बताया गया। इसलिए हमने इन विमानों पर रोक लगाने का फैसला किया है। दुनिया के अन्य देशों को भी इन विमानों से समस्या है।’ उन्होंने कहा कि बोइंग की तरफ से बताई गई बातों से वह संतुष्ट नहीं हैं।

स्पाइसजेट से कहा गया है कि शेड्यूल अजस्ट करें और जिन शहरों के लिए एक से ज्यादा फ्लाइट हैं उनको कम कर दें। सरकार ने स्पाइसजेट से वादा किया है कि उन्हें कुछ विमान उपलब्ध कराए जाएंगे। 12 विमान ठप होने से रोज 60 से 70 उड़ानें प्रभावित होंगी। हालांकि स्पाइसजेट कोशिश कर रहा है कि कम से कम फ्लाइट रद्द हों।

स्पाइसजेट की तरफ से कहा गया है, ‘हम कोशिश कर रहे हैं कि वैकल्पिक विमानों की व्यवस्था करें। अगर कोई यात्री तारीख बदलता है या गंतव्य बदलता है तो उसपर चार्ज नहीं लगाए जाएंगे।’ कुछ जानकारों का कहना है कि इस कदम से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के किराए में बढ़ोतरी होगी। घरेलू टिकट 20 प्रतिशत तो अंतरराष्ट्रीय टिकट 40 फीसदी तक महंगा हो सकता है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

अनिल अंबानी पर अभी भी 1 लाख करोड़ से ज्यादा का कर्ज?

नई दिल्ली, बड़े भाई की मदद से अनिल अंबानी 462 करोड़ रुपये का बकाया चुका …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)