Tuesday , July 16 2019
Home / भेल मिर्च मसाला / भेल के जीएम की वापसी की अटकलें

भेल के जीएम की वापसी की अटकलें

भोपाल

पिछले साल जून माह में भेल भोपाल यूनिट से अपर महाप्रबध्ंाक से महाप्रबंधक बने तीन अफसरों की भोपाल वापसी की अटकलें शुरू हो गई है। वहीं दिल्ली कार्पोरेट के एक और महाप्रबंधक भोपाल आ सकते हैं। चर्चा है कि प्रमोशन के बाद महाप्रबंधक रूपेश तेलंग को रानीपेट और प्रवीश वाष्र्णेय को झांसी यूनिट भेजा गया था वहीं भोपाल काडर के महाप्रबंधक बीके सिंह और संजीव कॉग भी दिल्ली कार्पोरेट में जमें हैं। खबर है कि इस साल भोपाल यूनिट से पांच महाप्रबंधक भेल को अलविदा कहेंगे। ऐसे में नये महाप्रबंधकों की इस यूनिट को खासी जरूरत रहेगी। उस पर महाप्रबंधक डीडी पाठक, टीके बागची और राजीव सिंह का तबादला भोपाल से बाहर कर दिया। प्रशासनिक स्तर पर कहा जा रहा है कि ऐसे में ही अपर महाप्रबंधक से महाप्रबंधक पद के लिए जून में प्रमोशन होना भी बाकी है। अब भोपाल वाले प्रमोशन के बाद बाहर जायेंगे या बाहर वाले भोपाल आयेंगे यह चर्चा का विषय है।

अब आपका क्या होगा साहेब

भेल में हर साल ईमानदारी से प्रमोशन होने की चर्चा रही है फिर भी जिस अफसर की जुगाड़ फिट है और उसकी सिफारिश में दम है तो पतली गली से प्रमोशन पा जाता है। लेकिन कुछ अफसर ऐसे भी हैं जो दम रखते हुए भी 6,7,8,9,10 साल से प्रमोशन की कतार में खड़े हैं। चर्चा है कि अपर महाप्रबंधक एके चतुर्वेदी, पीएल गजभिये, एमएन रामकुमार, अमिताभ दुबे, अजय सक्सेना, वाययू पाटिल, पी पंडा, प्रवाकर दास, मोहम्मद राशिद, अनंत टोप्पो, शुभ्रा चतुर्वेदी, ब्रजेश अग्रवाल, प्रदीप रावत, शफीक उर्रहमान, बिप्लब मंडल, रविन्द्र आइन्द, एनके दहीवाले, अरूण हेमराम, संजय चन्द्रा, आरएफ सिद्दीकी, राजीव सरना, विपुल अग्रवाल और रामभाऊ पाटिल प्रमोशन की कतार में आज भी खड़े हैं। हां यह जरूर है कि इस बार भी भले ही 2009 के एजीएम एके चतुर्वेदी जीएम बन पाये या नहीं लेकिन श्रीमती शुभ्रा चतुर्वेदी के चांस ज्यादा बने हुए हैं। अब हालात यह हो गये हैं कि जो जीएम नहीं बन पाये वह पीआरपी की कतार में जरूर खड़े हो गये हैं।

मंडल बने एफसीएक्स के एचओडी

वैसे तो प्रबंधन ने एक सर्कु लर जारी कर वक्र्स इंजीनियरिंग, नगर प्रशासन और कस्तूरबा अस्पताल के खर्चों में लगाम लगाने की कोशिश की है जो कर्मचारी और कारखाना हित में जरूरी नहीं था। ऐसे में ही वक्र्स इंजीनियरिंग के अन्तर्गत एफसीएक्स विभाग में एक नये एजीएम एचओडी बिप्लब मंडल को बना डाला। हालांकि यह काम इसी विभाग के वरिष्ठ उप महाप्रबंधक सुभाष पारे बखूबी अंजाम दे रहे थे अब वह एजीएम श्री मंडल के आधीन काम करेंगे। चर्चा है कि यह काम कार्पोरेट के ईशारे पर अंजाम दिया गया है बेचारे ईडी साहब भी कुछ नहीं कर सकते। खर्चों में कटौती के चलते श्री मंडल को एचओडी बना तो दिया लेकिन काम की कमी उन्हें काफी खलेगी। इधर भेल कार्पोरेट के सीएमडी को एक्सटेंशन मिलने की खबर भी जोरों पर है। खबर है कि उन्हें पीएमओ से हरी झंडी मिल गई है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

डायरेक्टर एचआर के साक्षात्कार

भोपाल भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल)कार्पोरेट के डायरेक्टर मानव संसाधन के साक्षात्कार का समय जैसे-जैसे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)