Tuesday , April 23 2019
Home / राष्ट्रीय / NDA को बहुमत की उम्मीद, UPA 140 से नीचे: सर्वे

NDA को बहुमत की उम्मीद, UPA 140 से नीचे: सर्वे

नई दिल्ली

लोकसभा चुनावों के लिए सभी पार्टियों ने कमर कस ली है और चुनाव प्रचार मोड में हैं। इस बीच टाइम्स नाऊ और वीएमआर के सर्वे के अनुसार एनडीए फिर से बहुमत के जादुई आंकड़े को छू सकती है। सर्वे के अनुसार एनडीए को 543 में से 283 सीट मिलने का अनुमान है, वहीं यूपीए सिर्फ 135 सीटों तक सिमट जाएगी। दक्षिण भारत में जहां एनडीए को कोई खास सफलता नहीं मिलने वाली, वहीं बंगाल में बीजेपी को बढ़त मिलने का अनुमान है। नॉर्थ ईस्ट के प्रदेश असम और हिंदी पट्टी के राज्यों में बीजेपी का दबदबा कायम रहेगा।।

बीजेपी का दबदबा हिंदी पट्टी के राज्यों में कायम है और सर्वे के अनुसार बीजेपी और सहयोगी दल आसानी से बहुमत का आंकड़ा छू लेंगे। एनडीए को 283 सीटें मिल सकती हैं, वहीं अन्य पार्टियों के खाते में 125 और यूपीए को 135 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है।

उत्तर प्रदेश में मुरझा सकता है कमल
उत्तर प्रदेश में बीजेपी सर्वे के अनुसार 2014 वाला करिश्मा दोहराती नजर नहीं आ रही। 2014 में प्रदेश में बीजेपी का 43.3% वोट शेयर था और सहयोगियों के साथ मिलकर बीजेपी ने 73 सीटें जीती थीं। इस बार बीजेपी+ को 42 सीटों से ही संतोष करना पड़ सकता है। महागठबंधन के खाते में 36 और कांग्रेस को 2 सीटें मिलने का अनुमान है।

हिंदी पट्टी-दिल्ली में बीजेपी की बल्ले-बल्ले
बीजेपी और एनडीए को सत्ता में वापसी दिलाने में बड़ी भूमिका सर्वे के अनुसार हिंदी पट्टी के राज्यों में बीजेपी का जलवा कायम रहेगा। दिल्ली में भी सातों सीटों पर बीजेपी का परचम लहराएगा। मध्य प्रदेश के 29 में से 22 सीटों पर बीजेपी को जीत मिलने का अनुमान है, वहीं राजस्थान में भी बीजेपी 25 में से 20 सीटें जीत सकती है।

पश्चिम बंगाल में बीजेपी को बढ़त, कांग्रेस-लेफ्ट खाली हाथ
पश्चिम बंगाल में अपनी जड़ें मजबूत करने की कोशिश में लगी बीजेपी के लिए बड़ी खुशखबरी है। सर्वे के आंकड़े अगर हकीकत में बदले तो बीजेपी को प्रदेश में 32 फीसदी वोट शेयर और 11 सीटें मिल सकती हैं। प्रदेश में कांग्रेस और लेफ्ट का खाता भी नहीं खुलेगा। 2014 में बीजेपी को प्रदेश में 16.8 फीसदी वोट शेयर और 2 सीटों पर जीत मिली थी।

बिहार में 2014 में एकतरफा मोदी लहर चल रही थी। बिहार में बीजेपी को 51.5% वोट और 30 सीटें मिली थी। 2019 में एनडीए का वोट शेयर 48.40 रहने का अनुमान जताया गया है और एनडीए को 27 सीटें मिल सकती हैं। यूपीए को इन चुनावों में 42.40 फीसदी वोट शेयर और 13 सीट मिल सकती है।

तेलंगाना में एकतरफा मुकाबले का अनुमान
दक्षिण के राज्यों में धमर दिखाने की हर संभव कोशिश कर रही बीजेपी को इन चुनावों में झटका लग सकता है। टाइम्स नाउ और वीएमआर के सर्वे के मुताबिक बीजेपी का वोट शेयर तो बढ़ रहा है, लेकिन सीटों पर फायदा मिलता नहीं दिख रहा। 2014 में बीजेपी को प्रदेश में 10.4% वोट और 1 सीट मिली थी। इस चुनाव में 17.60% वोट मिलने के साथ 2 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है। इसके साथ ही प्रदेश में टीआरएस का दबदबा रहेगा। टीआरएस को प्रदेश की 17 में से 12 सीटों पर जीत मिलने का अनुमान जताया गया है।

आंध्र प्रदेश में क्षेत्रीय पार्टियों का जलवा दिख सकता है
सर्वे के अनुसार आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस को पिछले लोकसभा चुनावों में 8 सीटों पर जीत मिली थी, लेकिन इस बार यह आंकड़ा 22 सीटों पर जीत तक पहुंच सकता है। एनडीए से अलग होने और ऐंटी इनकंबेंसी का बड़ा नुकसान टीडीपी को सर्वे में होता दिख रहा है। नायडू की पार्टी पिछले चुनावों में 15 सीटों की जीत से फिसलकर 3 सीटों पर सीमित हो सकती है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

श्री लंका: बचकर भाग न सकें आतंकी, भारत अलर्ट

नई दिल्ली ईस्टर संडे पर श्री लंका में हुए सीरियल बम धमाकों से पूरी दुनिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)