Sunday , July 21 2019
Home / कॉर्पोरेट / शेयर बाजार में भारी गिरावट, सेंसेक्स 495 तो निफ्टी 158 अंक लुढ़का

शेयर बाजार में भारी गिरावट, सेंसेक्स 495 तो निफ्टी 158 अंक लुढ़का

मुंबई

अमेरिका द्वारा भारत सहित आठ देशों को ईरान से मई से तेल आयात करने में कोई छूट न देने की खबर से सोमवार को घरेलू शेयर बाजार धराशायी हो गया। इस खबर से डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट आई और विदेशी निवेश प्रभावित हुआ, जिससे सेंसेक्स लगभग 500 अंक तो निफ्टी 11,600 अंकों के स्तर से नीचे लुढ़क गया।

बीएसई के 31 कंपनियों के शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 495.10 अंकों (1.26%) की गिरावट के साथ 38,645.18 पर बंद हुआ। वहीं नैशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 कंपनियों के शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 158.35 अंकों (1.35%) की गिरावट के साथ 11,594.45 पर बंद हुआ।

दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 39,158.22 का ऊपरी स्तर, जबकि 38,585.65 का निचला स्तर छुआ। वहीं, निफ्टी ने 11,727.05 का ऊपरी स्तर तो 11,583.95 का निचला स्तर छुआ। बीएसई पर पांच कंपनियों के शेयर हरे निशान पर तो 26 कंपनियों के शेयर लाल निशान पर बंद हुए। एनएसई पर 10 कंपनियों के शेयरों लिवाली तो 40 कंपनियों के शेयरों में बिकवाली देखी गई।आइए उन कारकों पर विस्तार से नजर डालते हैं, जिन्होंने बाजार को धराशायी करने में अपनी भूमिका निभाई।

1. कच्चे तेल में आया उबाल
अमेरिका द्वारा आगामी दो मई से भारत सहित आठ देशों को ईरान से तेल आयात करने में छूट खत्म करने से जुड़ी खबरों से कच्चे तेल की कीमत में तीन फीसदी का उछाल दर्ज किया गया। हालांकि, खबर यह भी है कि इस मुद्दे पर से संशय को अमेरिका विदेश मंत्री माइक पोंपियो जल्द ही दूर करेंगे।

2. डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी
डॉलर के मुकाबले रुपया 0.75 फीसदी कमजोर होकर 69.88 के स्तर पर पहुंच गया। इस गिरावट के साथ ही रुपया छह सप्ताह के निचले स्तर पर पहुंच गया। रुपये में कमजोरी की वजह से विदेशी निवेशकों के रिटर्न में गिरावट आई और विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बाजार से पूंजी निकाली।

3. अर्थव्यवस्था से जुड़ी चिंता
ब्रेंट क्रूड की कीमत में इस साल अबतक 35 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है। भारत अपनी कुल जरूरत का 81-83 फीसदी तेल आयात करता है। इससे भारत का राजकोषीय घाटा और चालू खाता घाटा बढ़ेगा तथा महंगाई से जुड़ी चिंता भी बढ़ेगी।

4. एफऐंडओ एक्सपायरी
यह सप्ताह एफऐंडओ एक्सपायरी का है। तीन दिनों बाद ही पुराने एफऐंडओ एक्सपायर हो जाएंगे।

इन शेयरों में रही तेजी
बीएसई पर भारती एयरटेल के शेयर में सर्वाधिक 0.89 फीसदी, टीसीएस में 0.88 फीसदी, इन्फोसिस में 0.59 फीसदी, एनटीपीसी में 0.26 फीसदी और पावरग्रिड के शेयर में 0.08 फीसदी की तेजी दर्ज की गई। एनएसई पर भारती एयरटेल के शेयर में सर्वाधिक 1.46 फीसदी, विप्रो में 1.21 फीसदी, टेक महिंद्रा में 0.71 फीसदी, इन्फोसिस में 0.59 फीसदी और एनटीपीसी के शेयर में 0.48 फीसदी की तेजी देखी गई।

इन शेयरों में रही गिरावट
बीएसई पर यस बैंक के शेयर में सर्वाधिक 6.62 फीसदी, इंडसइंड बैंक में 4.11 फीसदी, रिलायंस में 2.76 फीसदी, आईसीआईसीआई बैंक में 2.54 फीसदी और एचडीएफसी बैंक के शेयर में 2.44 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। एनएसई पर इंडियाबुल हाउजिंग फाइनैंस के शेयर में सर्वाधिक 9.07 फीसदी, यस बैंक में 6.92 फीसदी, बीपीसीएल में 6.32 फीसदी, इंडसइंड बैंक में 4.28 फीसदी और आईओसी के शेयर में 3.97 फीसदी की गिरावट देखी गई।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

बिकवाली से शेयर बाजार में हाहाकार, निवेशकों के डूबे 2 लाख करोड़

मुंबई, भारतीय शेयर बाजार में शुक्रवार को निराशा का माहौल रहा. इस वजह से सेंसेक्‍स …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)