Wednesday , August 21 2019
Home / भोपाल / मिसाल: चौकीदार के बेटे को परीक्षा में मिले 99.9% अंक

मिसाल: चौकीदार के बेटे को परीक्षा में मिले 99.9% अंक

भोपाल

तमाम मुश्किलों और अभाव के बीच अपनी मेहनत के बल पर मध्य प्रदेश के एक स्टूडेंट ने समूचे देश में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। आयुष्मान ताम्रकार नाम के इस प्रतिभाशाली स्टूडेंट ने मध्य प्रदेश की हाईस्कूल की परीक्षा में गगन त्रिपाठी के साथ संयुक्त रूप से पहला स्थान पाया है। आयुष्मान के पिता विमल ताम्रकार एक विवाह घर की चौकीदारी करते हैं। आयुष्मान सागर के शासकीय बहुउद्देशीय उत्कृष्ट विद्यालय के छात्र हैं और उन्होंने इस बार हाईस्कूल की परीक्षा में 500 में से 499 अंक हासिल किए हैं।

सागर जिले के रहने वाले आयुष्मान के परिवार का जीवन अभाव और समस्याओं से घिरा हुआ है। आर्थिक संकट उनकी जिंदगी हिस्सा है। उनके पिता विमल को विवाह घर की चौकीदारी से जो पैसा मिलता है, उसी से परिवार का पालन पोषण होता है। आयुष्मान की मां बरखा मजदूरी करके परिवार को थोड़ी मदद करती हैं। आयुष्मान अपनी सफलता से खुश हैं और सफलता का श्रेय गुरुजनों और माता-पिता को देते हैं। आयुष्मान ने अपनी सफलता के बारे में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि वह अपनी बहन आयुषी के साथ पढ़ाई करते हैं और इंजिनियर बनना चाहते हैं।

नतीजा आने के वक्त पिता कर रहे थे ड्यूटी
उन्होंने बताया कि माध्यमिक शिक्षा मंडल परीक्षा का नतीजा बुधवार को जब आया, तब उनके पिता अपनी ड्यूटी पर थे। उन्हें बेटे की सफलता का पता चला तो वह खुशी से उछल पड़े। आयुष्मान के परिवार की खुशी उस समय दोगुनी हो गई जब उसकी बहन आयुशी ने भी 10वीं की परीक्षा में 92 प्रतिशत अंक हासिल किए। आयुष्मान की मां बरखा को बेटे की आगे की पढ़ाई की चिंता है। वह कहती हैं, ‘आगे की पढ़ाई कैसे होगी, क्योंकि पैसे नहीं हैं। अभी तो घर खर्च बड़ी मुश्किल से चल पाता है। आयष्मान दूसरों की दुकान बैठकर अपना खर्च निकालता था। बेटा बड़ा इंजीनियर बने यही इच्छा है।’

सफलता की कहानी लोगों के लिए बनी मिसाल
सागर के मोहननगर वार्ड की तंग गली में आधे कच्चे-पक्के मकान में रहने वाले आयुष्मान के घर आने-जाने वालों का मजमा लगा हुआ है। कोई उनके साथ सेल्फी लेना चाह रहा है तो कोई उनकी सफलता की कहानी जानने बेताब है, क्योंकि आयुष्मान अपनी मेहनत के बल पर सभी के लिए एक उदाहरण बन सके हैं। उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश बोर्ड के 10वीं और 12वीं के परिणाम बुधवार को घोषित कर दिए गए। हायर सेकेंडरी (12वीं) में 72.37 प्रतिशत और हाईस्कूल (10वीं) में 61.32 प्रतिशत विद्यार्थी सफल हुए हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विद्यार्थियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

MP के पूर्व CM बाबूलाल गौर का 89 साल की उम्र में निधन

भोपाल, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता बाबूलाल गौर का बुधवार सुबह भोपाल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)