Wednesday , August 21 2019
Home / Featured / EC के ऐक्शन से चढ़ा ममता का पारा, बोलीं- मोदी-शाह से डरा आयोग

EC के ऐक्शन से चढ़ा ममता का पारा, बोलीं- मोदी-शाह से डरा आयोग

कोलकाता

पश्चिम बंगाल में मंगलवार को हुई राजनीतिक हिंसा के बाद अब टीएमसी और बीजेपी के बीच जुबानी जंग तेज हो चली है। दूसरी ओर चुनाव आयोग ने भी इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए चुनाव प्रचार में एक दिन की कटौती की है। चुनाव आयोग ने एडीजी (सीआईडी) और राज्य के प्रधान सचिव (गृह) को भी हटा दिया है। आयोग के इस कदम से नाराज मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग अमित शाह से डरा हुआ है, इसीलिए उसने ऐसी एकतरफा कार्रवाई की है।

बेहद सख्त तेवरों के साथ मीडिया के सामने आईं ममता ने कहा, ‘बीजेपी रोडशो से बाहरी लोगों को लेकर आई थी। बंगाल में बीजेपी ने बाहर से गुंडे बुलाए थे। मोदी को क्या लगता है कि वह हिंसा के बल पर बंगाल में जीत जाएंगे? बंगाल में जो भी हिंसा हुई वह भगवाधारी गुंडों ने की।’ उन्होंने आरोप लगाया कि अमित शाह की रैली में बीजेपी ने खुद हिंसा भड़काई थी। ममता ने कहा, ‘हमने भी आज रैली की, लेकिन हमने एक भी बाहरी आदमी को नहीं बुलाया।’

‘अमित शाह से डरा हुआ है चुनाव आयोग’
ममता ने चुनाव आयोग के फैसले को असंवैधानिक, गैर-कानूनी, पक्षपातपूर्ण और अनैतिक करार दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि चुनाव आयोग के पास हमने भी कई शिकायतें कीं, मगर तब आयोग ने कोई कार्रवाई नहीं की। उन्होंने कहा, ‘चुनाव आयोग अमित शाह से डरा हुआ है और उन्हीं के इशारे पर चुनाव आयोग ने यह फैसला लिया है। यह फैसला चुनाव आयोग का नहीं बल्कि मोदी का है।’ ममता ने कहा कि अमित शाह ने बंगाल और बंगालियों का अपमान किया है।

ममता ने आगे कहा, ‘अन्याय अमित शाह ने किया, मगर सजा हमें दी गई। बीजेपी को बंगाल के लोग माफ नहीं करेंगे। हिंसा के दौरान ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी गई, यह बंगाल की जनता का अपमान है।’ ममता ने कहा कि बंगाल में कानून-व्यवस्था की कोई समस्या नहीं है।

‘बंगाल को बदनाम करने के लिए भेजा केंद्रीय बल’
सीआईडी के एडीजी राजीव कुमार को उनके पद से हटाने को लेकर ममता बनर्जी ने भी निशाना साधा। ममता ने कहा कि राजीव कुमार से चुनाव आयोग की आखिर किस बात की दुश्मनी है? पश्चिम बंगाल में केंद्रीय बलों की बीजेपी और आरएसएस से मिलीभगत का आरोप लगा चुकीं ममता ने बुधवार को फिर हमला किया। उन्होंने कहा, ‘जब यूपी, बिहार, गुजरात, हरियाणा, तमिलनाडु में चुनाव हुए तो वहां कितनी केंद्रीय फोर्स भेजी गई थी। सिर्फ बंगाल को बदनाम करने के लिए यहां ज्यादा फोर्स भेजी गई।’

ममता ने किया पीएम मोदी पर निजी हमला
इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निजी हमला करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी मुझसे डरे हुए हैं। मोदी तो अपनी पत्नी का भी ध्यान नहीं रख पाए। वह हर किसी पर निजी हमले करते हैं। उन्होंने राहुल गांधी पर निजी हमले किए, सोनिया गांधी पर निजी हमले किए।

‘मेरे खिलाफ ऐक्शन लेकर दिखाएं, मैंने भी की है पूरी तैयारी’
ममता ने कहा, ‘अगर आप लोग हमको इज्जत नहीं देंगे, तो हम कैसे देंगे? आप मेरा क्या कर लेंगे? मैं चुनौती देती हूं कि मेरे खिलाफ कोई कार्रवाई करके दिखाएं, मैंने भी पूरी तैयारी कर रखी है।’ ममता ने कहा कि मोदी ने मेरा जो अपमान किया है, 19 तारीख को जनता उसका बदला लेगी। ममता ने हाथ जोड़कर कहा कि मोदी को एक भी वोट मत देना। ममता ने कहा कि मैं नौजवानों, महिलाओं, बुजुर्गों से अपील करती हूं कि इसे (मोदी) एक भी वोट मत देना।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर चुनाव आयोग ने सख्त कदम उठाया है. आयोग ने बंगाल में गुरुवार रात 10 बजे से चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है. इसके अलावा आयोग ने राज्य के प्रधान सचिव और गृह सचिव की छुट्टी कर दी गई है. आयोग ने सोशल मीडिया पर वीडियो डालने पर भी बैन लगा दिया है. बंगाल के ADG CID राजीव सिंह को गृह मंत्रालय भेजा गया है. राज्य में 19 मई को 9 सीटों पर वोट डाले जाने हैं. उससे पहले ही आयोग ने बड़ी कार्रवाई की है. आखिरी राउंड के लिए जो चुनाव प्रचार परसों यानी 17 मई की शाम पांच बजे खत्म होना था, लेकिन अब ये कल यानी 16 मई को रात 10 बजे ही खत्म हो जाएगा. इसके बाद किसी तरह के सार्वजनिक प्रचार की अनुमति नहीं है.

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

चिदंबरम: 11 वकीलों की टीम पर SC में एक न चली, होंगे गिरफ्तार?

नई दिल्ली INX मीडिया केस में दिल्ली हाई कोर्ट से अग्रिम जमानत की याचिका खारिज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)