Friday , May 24 2019
Home / राज्य / बुंदेलखंड : जल संकट: कुएं की पूजा करने पहुंच गए DM

बुंदेलखंड : जल संकट: कुएं की पूजा करने पहुंच गए DM

बांदा

उत्तर प्रदेश के हिस्से वाले बुंदेलखंड के बांदा जिले में छाए भीषण पेयजल संकट से निजात दिलाने के लिए जिलाधिकारी हीरालाल ने बुधवार को शहर के एक पुराने कुएं की पूजा-अर्चना की है। गुरुवार को इलाके में इस विशेष पूजन की काफी चर्चा हो रही है। हालांकि लोगों ने इसे अंधविश्वास की संज्ञा देते हुए डीएम का मजाक भी उड़ाया।

दरअसल यूपी के बांदा शहर और आस-पास के कई गांवों में पिछले कई दिनों से भीषण पेयजल संकट छाया हुआ है। चार दिन पहले जिलाधिकारी हीरालाल ने भारी पुलिस बल भेजकर केन नदी की खुदाई करवाई थी, फिर भी पीने का पर्याप्त पानी उपलब्ध नहीं हो पाया तो उन्होंने बुधवार को सभी अधिकारियों के साथ शहर के खिन्नी नाका मुहल्ले के पुराने मोदी कुआं की विधि-विधान से वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजा-अर्चना की।

‘नाराज हो गए हैं कुएं, पानी देना किया है बंद’
इस पूजन के बाद जिलाधिकारी हीरालाल ने मीडिया से कहा, ‘पहले लोग कुआं-तालाबों को भगवान मानकर शादी-विवाह और त्योहारों में पूजा किया करते थे, अब इन्हें कूड़ा-करकट से पाटा जा रहा है। इसी से कुएं नाराज हो गए हैं और पानी देना बंद कर दिया है। पूजा कर भगवान रूपी कुएं को खुश करने की कोशिश की गई है, ताकि कुआं पीने का पानी उपलब्ध करा सके।’

लोगों को आरोप- खनन के कारण सूखी नदी
वहीं जिलाधिकारी के इस पूजन को लोग अंधविश्वास से जोड़कर देख रहे हैं। बुंदेलखंड इंसाफ सेना के प्रमुख एएस नोमानी का कहना है कि बालू के अंधाधुंध अवैध खनन से केन नदी सूख गई है, जिससे भूगर्भ का जलस्तर नीचे चला गया है। नतीजतन भीषण पेयजल संकट पैदा हुआ है। भूगर्भ जलस्तर के बचाव के बजाय जिलाधिकारी अंधविश्वास आधारित प्रक्रिया अपनाकर लोगों का ध्यान भटका रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि डीएम जिले के लोगों को अंधविश्वासी बनाने पर आमादा हैं, यह बहुत ही अफसोस की बात है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस में हलचल, कई के इस्तीफे

लखनऊ लोकसभा चुनाव में एक बार फिर करारी शिकस्त के बाद कांग्रेस में जबर्दस्त उथलपुथल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)