Sunday , September 22 2019
Home / Featured / ‘ड्रोन-क्लोन, EC का मौन’, CEC पर भड़के सिब्बल ने लिख दी कविता

‘ड्रोन-क्लोन, EC का मौन’, CEC पर भड़के सिब्बल ने लिख दी कविता

नई दिल्ली,

लोकसभा चुनाव 2019 के पूरे प्रचार प्रसार के दौरान कांग्रेस पार्टी की चुनाव आयोग से एक शिकायत रही, वो है कि EC ने प्रधानमंत्री के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया है. मुख्य चुनाव आयुक्त पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने एक कविता लिखी है. सिब्बल की इस कविता में पीएम को मिली क्लीन चिट, चुनाव आयोग में हुए मतभेद पर निशाना साधा गया है.

कपिल सिब्बल ने लिखा, ‘आपकी लेजेंडरी क्लीन चिट, आपका साहस दिखाती हैं. आप चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री के आंख और कान रहे, लेकिन लवासा के लिए नहीं.’ अंग्रेज़ी में लिखी गई अपनी कविता में सिब्बल आगे लिखते हैं, ‘आदर्श रूप से आचार संहिता के लिए आज जो सही मानते थे, लेकिन इस दौरान वो आपकी नज़र में आया ही नहीं’ लोकतंत्र रो रहा है. ( कपिल सिब्बल की कविता अंग्रेज़ी में लिखी गई है, ये उसका सार ही है)

कांग्रेस लगातार आरोप लगाती रही कि चुनाव आयोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर नरमी बरते हुए है और लगातार उनके द्वारा की जा रहे आचार संहिता के उल्लंघन पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है.

To :

Sunil Arora ( CEC )
Your legendary clean chits
showed the courage of two drones
you were eyes and ears of PM
and not Lavasa’s clones
steadfastly you held on
to what you believed was right
for the Model Code of Conduct
was not within your sight
Democracy laments !
— Kapil Sibal (@KapilSibal) May 19, 2019

कांग्रेस की ओर से प्रधानमंत्री के कई भाषणों, वाराणसी में दौरा, अहमदाबाद में मतदान के बाद रोड शो, पाकिस्तान, न्यूक्लियर बम समेत अन्य मुद्दों को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत की गई थी. लेकिन हर बार पीएम को चुनाव आयोग से क्लीनचिट ही मिली. इस पर कांग्रेस ने चुनाव आयोग पर सवाल खड़े किए.

चुनाव आयोग में भी दिखी थी तकरार
बता दें कि शनिवार को ही इन क्लीन चिट को लेकर चुनाव आयोग के भीतर ही कई तरह के मतभेद सामने आए थे. चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को पत्र लिखकर मांग की थी कि आयोग के फैसलों में आयुक्तों के बीच मतभेद को भी आधिकारिक रिकॉर्ड पर शामिल किया जाए.

गौर करने वाली बात ये भी है कि अशोक लवासा देश के अगले मुख्य चुनाव आयुक्त बनने की कतार में हैं और सूत्रों के मुताबिक लवासा आचार संहिता उल्लंघन की शिकायतों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को सीधे-सीधे लगातार क्लीन चिट और विरोधी दलों के नेताओं को नोटिस थमाए जाने के खिलाफ रहे हैं.

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

महाराष्ट्र चुनाव: कांग्रेस-NCP के लिए अस्तित्व की लड़ाई

मुंबई महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव को लेकर जहां बीजेपी खेमे में उत्साह का माहौल है, वहीं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)