Wednesday , June 26 2019
Home / भेल न्यूज़ / भेल में मेनेजर से सीनियर मेनेजर लगा रहे हैं प्रमोशन पाने जोर

भेल में मेनेजर से सीनियर मेनेजर लगा रहे हैं प्रमोशन पाने जोर

39 प्रमोशन की कतार में ,17 से 20 बन सकते हैं सीनियर मेनेजर

केसी दुबे, भोपाल

भेल भोपाल यूनिट में इस माह प्रमोशन की बयार है। आर्टिजन से लेकर अपर महाप्रबध्ंाक स्तर के अधिकारी प्रमोशन की बांट जोह रहे। वरिष्ठ अधिकारी प्रमोशन को लेकर साक्षात्कार में व्यस्त है। एचआर विभाग में काम कम और सिफारिशों का दौर जारी है। दबाव के चलते कितने प्रमोशन सही हो पायेंंगे यह तो प्रमोशन लिस्ट जारी होने के बाद ही पता चल पायेगा। फिलहाल 39 मेनेजर से सीनियर मेनेजर पद के लिए प्रमोशन की कतार में खड़े हैं। प्रबंधन ने इस पद के लिए करीब 42.5 फीसदी कोटा निर्धारित किया है इस हिसाब से यदि सिफारिश चली तो 17 से 20 तक सीनियर मेनेजर बनाये जा सकते हैं। इस बार भी भेल के नेता अपने चहेतों को प्रमोशन दिलाने के लिए जी तोड़ कोशिश करेंगे।यह अलग बात है कि इसमें किसका कितना लाभ-शुभ जुड़ा है।

जानकारी के मुताबिक मेनेजर एसके सिंह, एसके अग्रवाल, राजेश पाटिल, भीकम प्रताप चौधरी, योगेश पी हिंगे,दीपक कुमार बाग, समीर पॉल, अमित खरे, विजय प्रकाश, आलोक कुमार भारती, बिक्रमादित्य सिंह, कौशिक मण्डल, मधुरेन्द्र मंडारवाल, संजय कुमार यादव, विवेक सिंह यादव, मंयक जैन, दिनेश पवार, अतुल कुमार, नवीन कुमार सिंह, रोहित वर्मा, वैभव दीक्षित आदि नामों की चर्चाएं है।

यूं तो मेनेजर एसके जैन, डीके साधवानी, श्रीमती लिलीमा गुप्ता, सुनील कुमार कौशल, शिलेन्द्र कुमार मिश्रा, सुधीर कुमार भारती, हिमांशु कानस्कर, अजय कुमार, आशीष गुप्ता, ब्रजेन्द्र सिहं, अरूण सिंह, सौरभ चौहान, गिरीराज अग्रवाल, वीरेन्द्र गुप्ता, हेमन्त मिंज, प्रदीप वर्मा और सुहास चन्द्र दास आदि भी साक्षात्कार देंगे। इनमें से किसकी उड़ कर लगेगी यह अलग बात है।

प्रमोशन में पक्षपात को लेकर आक्रोश
जानकारी के मुताबिक किसी भी ग्रेड ई-1 से ई-2, ई-2 से ई-3, ई3 से ई4, ई4 से ई5 आदि जो भी कोटा रहा हो तो बीई डिग्री वालों को प्रमोशन दे दिया जाता है। लेकिन उसी बेेंच में डिप्लोपा धारी भले ही बीए, बीएससी, एमए, एलएलबी किया हो तो डिप्लोमाधारी की पदोन्नती नहीं होने के एक साल बाद फिर डिप्लोमाधारी डिग्रीवालों के समकक्ष पहुंच जाता है। दूसरे साल भी इसी तरह की प्रक्रिया पूरी कर डिप्लोमाधारी का प्रमोशन रोक दिया जात है। वहीं डिग्री वाले को सौ फीसदी प्रमोशन दे दिया जाता है। इससे डिप्लोमाधारियों में आक्रोश है जो यह नैसर्गिक सिद्धांत के खिलाफ बताया जाता है। यूं माना जाये कि बीई या डिप्लोमाधारी को 50-50 फीसदी कोटा देना चाहिए लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। जबकि ई-7 स्तर के अधिकारियों को रिटायरमेंट के पूर्व पीआरपी के माध्यम से प्रमोशन का लाभ मिल रहा है। अब लोग कहने लगे हैं कि एक ही संस्थान में रहते हुए पक्षपात क्यों किया जा रहा है। इससे डिप्लोमाधारी का मानसिक और आर्थिक शोषण हो रहा है।

डायरेक्टर एचआर के साक्षात्कार 20 जून को
भेल दिल्ली कार्पोरेट आफिस में डायरेक्टर मानव संसाधन पद के लिए साक्षात्कार 20 जून को होंगे। इसके लिए कार्पोरेट ईडी एचआर अनिल कपूर, भोपाल यूनिट के महाप्रबंधक मानव संसाधन एम ईसादोर, जीएम हाईड्रो विष्णु मुनि, एस मुर्ती, समीर मुखर्जी, ईडीएएआई संजय जैन, डायरेक्टर पीईआर सीसीएल राधेश्याम, सीपीओ रेल्वे श्रीमती अनुपम बैन, ईडी पीएण्ड ए रेल्वे एस बालाचन्द्रन आदि साक्षात्कार में शामिल होंगे। यह पद डायरेक्टर मानव संसाधन डी बंदोपाध्याय के रिटायरमेंट के बाद खाली होगा। इसकी चयन प्रक्रिया साक्षात्कार के बाद पूरी होगी। इसी दिन नये डायरेक्टर मानव संसाधन के नाम की घोषणा कर दी जायेगी। गौरतलब है कि वर्तमान डायरेक्टर अगस्त 2019 में रिटायर होंगे। ऐसे कयास लगाये जा रहे हैं कि डायरेक्टर मानव संसाधन के लिए ईडी एचआर दिल्ली कार्पोरेट अनिल कपूर , भेल भोपाल यूनिट के महाप्रबंधक मानव संसाधन एम ईसादोर और कार्पोरेट के अधिकारी समीर मुखर्जी प्रबल दावेदार बताये जा रहे हैं।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

भेल भोपाल कॉडर के पुरुस्वानी इंजीनियर से पहुंचे ईडी के मुकाम तक

भोपाल भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड भेल भोपाल यूनिट के ऐसे कई अफसर है जो इस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)