Wednesday , July 17 2019
Home / राज्य / आंध्रः भाइयों में झगड़ा, भाभी को निर्वस्त्र किया

आंध्रः भाइयों में झगड़ा, भाभी को निर्वस्त्र किया

विजयवाड़ा

अलग-अलग राजनीतिक दलों के समर्थन को लेकर एक परिवार में हुए विवाद ने मंगलवार को आंध्र प्रदेश में एक महिला की जान ले ली। विवाद इस कदर बढ़ा कि वाईएसआरसी समर्थकों ने कथित तौर पर सरेआम एक महिला की साड़ी उतार दी। इससे आहत महिला ने फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या कर ली। वाईएसआरसी आंध्र प्रदेश के मौजूदा मुख्‍यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी की पार्टी है।

पुलिस ने मृतक महिला की पहचान पासंगरि ब्रह्मैया की पत्‍नी पद्मा (35) के रूप में की है। इस पूरे विवाद की शुरुआत 20 दिन पहले हुई थी जब चिंगंजम मंडल के रुद्रांबपुरम के रहने वाले पासंगरि भाइयों में आपसी विवाद शुरू हुआ था। छह भाइयों में से तीन ब्रह्मैया भाई वाईएसआरसी समर्थक हैं, जबकि बाकी तीन टीडीपी के। चिराला के डीएसपी यू नागराजू के अनुसार, चुनावों के बाद इन भाइयों में राजनीतिक मतभेद और गहरा गए थे।

20 दिन पहले हुई थी शुरुआत
सूत्रों के मुताबिक, ब्रह्मैया भाइयों में से सबसे बड़े भाई नागेश्‍वर राव की पत्‍नी पासंगरि पापम्‍मा का आरोप है कि ब्रह्मैया ने 20 दिन पहले उसे अपनी बाइक से टक्‍कर मारकर गिरा दिया था। मंगलवार सुबह, पापम्‍मा अपने परिवार के सदस्‍यों, वाईएसआरसी समर्थकों समेत 20 लोगों को लेकर ब्रह्मैया के घर पहुंची। वे लोग ब्रह्मैया और पद्मा से बाइक से टक्‍कर वाली घटना पर बहस करने लगे।

सबके सामने निर्वस्‍त्र कर दिया
यह बहस जल्‍द ही मारपीट में बदल गई। पुलिस के मुताबिक, वाईएसआरसी समर्थकों ने ब्रह्मैया और पद्मा की पिटाई की इसके बाद पद्मा की साड़ी पकड़कर उसे घसीटते हुए ले गए और सबके सामने उसे निर्वस्‍त्र कर दिया। इससे अपमानित पद्मा दौड़कर घर में चली गई और अपना कमरा अंदर से बंद कर लिया। इस बीच बाहर सड़क पर झगड़ा चलता रहा।

सभी को लगा कि पद्मा खुद को बचाने के लिए घर के अंदर चली गई है। तब तक किसी को यह नहीं पता था कि उसने अंदर जाकर अपनी साड़ी पंखे से बांधकर फांसी लगा ली है। बाद में जब और लोग आ गए और विवाद शांत हुआ तो ब्रह्मैया ने अपनी पत्‍नी के कमरे का दरवाजा खटखटाया। जवाब न मिलने पर दरवाजा तोड़ा गया।

20 के खिलाफ केस दर्ज
पुलिस ने किसी नए विवाद को रोकने के लिए उस क्षेत्र में पुलिस का एक दल तैनात कर दिया है। डीएसपी नागराजू का कहना है कि गांव में अतिरिक्‍त फोर्स लगाई गई है। उन्‍होंने बताया कि इस मामले में 20 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, मामले की जांच चल रही है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

कुरान बांटने के आदेश पर छात्रा ने उठाया सवाल

रांची सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने की वजह से कुरान बांटने का आदेश पाने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)