Wednesday , November 20 2019
Home / खेल / ऑनलाइन सर्च में ‘सबसे रिस्की सिलेब्रिटी’ हैं एमएस धोनी

ऑनलाइन सर्च में ‘सबसे रिस्की सिलेब्रिटी’ हैं एमएस धोनी

नई दिल्ली

अगर आप क्रिकेट फैन हैं और महेंद्र सिंह धोनी आपके फेवरिट क्रिकेटर हैं तो एक बात जानना आपके लिए जरूरी है। गूगल पर सर्च किए जाने वाले सिलेब्स में सबसे ज्यादा रिस्क एमएस धोनी का नाम सर्च करने वालों को है क्योंकि उनके बारे में जानकारी देने वाले ढेरों लिंक फेक हैं और इनका मकसद यूजर्स को नुकसान पहुंचाना होता है। जाहिर सी बात है, इसमें धोनी का कोई हाथ नहीं और उनकी पॉप्युलैरिटी का फायदा उठाकर अटैकर्स यूजर्स को निशाना बना रहे हैं।

एमएस धोनी ऑनलाइन सर्च करने पर ढेरों ऐसे लिंक दिखते हैं, जो उनके बारे में जानकारी या लेटेस्ट न्यूज देते हैं लेकिन इन्हें एक ट्रैप की तरह डिजाइन किया गया है। इनका मकसद यूजर्स को मैलिशस वेबसाइट्स पर नेविगेट करना या उनके डिवाइस में वायरस अटैक करना होता है। साइबर सिक्यॉरिटी एक्सपर्ट्स का कहना है कि धोनी ‘सबसे रिस्की सर्च रिजल्ट’ दिखाने के मामले में ‘सबसे खतरनाक सिलेब्रिटी’ बन गए हैं। यानी कि उनके नाम का इस्तेमाल फेक और खतरनाक लिंक्स तक यूजर्स को पहुंचाने के लिए किया जा रहा है।

लिस्ट में ये सिलेब्स भी शामिल
खतरनाक सर्च रिजल्ट दिखाने वाले सिलेब्स की लिस्ट में धोनी के अलावा सचिन तेंडुलकर, गौतम गुलाटी, सनी लियोनी, राधिका आप्टे, श्रद्धा कपूर, हरमनप्रीत कौर, पीवी सिंधु और क्रिस्टियानो रोनाल्डो भी शामिल हैं। इंटरनेट सिक्यॉरिटी सॉल्यूशंस कंपनी McAfee की ओर से तैयार की गई टॉप-10 ‘खतरनाक सिलेब्स’ की लिस्ट में एमएस धोनी सबसे ऊपर हैं। McAfee इंडिया के वाइस प्रेजिडेंट ऑफ इंजिनियरिंग और मैनेजिंग डायरेक्टर वेंकट कृष्णपुर ने कहा, ‘धोनी की लोकप्रियता का फायदा साइबरक्रिमिनल्स यूजर्स को निशाना बनाने के लिए कर रहे हैं।’

पासवर्ड या डेटा चोरी का रिस्क
वेंकट ने कहा, ‘भारत में सब्सक्रिप्शन बेस्ड कंटेंट प्लैटफॉर्म्स तेजी से बढ़ रहे हैं और लोग बड़े स्पोर्ट्स इवेंट्स, मूवीज, टीवी शोज या अपने फेवरिट सुपरस्टार की फोटो के लिए फ्री और पाइरेटेड कंटेंट की तलाश में ऑनलाइन सर्च करते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘ऐसे यूजर्स को फ्री या पाइरेटेड कंटेंट शेयर करने का दावा करने वाली साइट्स से जुड़े खतरों का अंदाजा नहीं होता।’ ऐसे फ्री कंटेंट देने का दावा करने वाले लिंक पर क्लिक करने से बचना जरूरी है क्योंकि ये पासवर्ड और डेटा चुराने जैसे खतरे यूजर्स के लिए लाता है। भरोसेमंद सोर्स पर ही भरोसा करना चाहिए और ऑफिशल लिंक से ही ऐक्सेस बेहतर होता है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

डेविस कप टेनिस: वेन्यू पर सस्पेंस खत्म, यहां भारत-पाक मैच

नई दिल्ली भारतीय टीम पाकिस्तान के खिलाफ डेविस कप मुकाबला नूर सुल्तान में खेलेगी। इस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)