Monday , December 9 2019
Home / Featured / प्राइस वॉर खत्म, खत्म हुए सस्ते कॉल के दिन?

प्राइस वॉर खत्म, खत्म हुए सस्ते कॉल के दिन?

मुंबई

टेलिकॉम इंडस्ट्री में पिछले कुछ दिनों से काफी हलचल देखी जा रही है। इसकी शुरुआत रिलायंस जियो द्वारा आईयूसी लागू करने के बाद हुई। दूसरी तरफ सितंबर महीने में खत्म हुई तिमाही में एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया ने कुल 74000 करोड़ रुपये की नुकसान की बात कही। बिजनस में भारी नुकसान झेलने के कारण अब इन दोनों कंपनियां ने 1 दिसंबर से अपने टैरिफ को महंगा करने का फैसला किया है। इसी बीच रिलायंस जियो ने भी ऐलान कर दिया है कि वह आने वाले कुछ हफ्तों अपने टैरिफ प्लान को महंगा करने वाला है। टेलिकॉम इंडस्ट्री के बड़े प्लेयर्स द्वारा उठाए जा रहे इन कदमों से इस बात को लगभग तय माना जा सकता है कि सस्ते कॉल और डेटा के दिन जल्द ही लदने वाले हैं।

नुकसान की भरपाई करने में मिलेगी मदद
टेलिकॉम कंपनियों के नजरिये से देखा जाए तो उन्हें पिछले कुछ सालों में प्राइस वॉर के चलते काफी नुकसान उठाना पड़ा है। ऐसे में टैरिफ में बढ़ोतरी करने से उन्हें रेवेन्यू लॉस की भरपाई करने में मदद मिल सकती है। मंगलवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा, ‘अन्य ऑपरेटर्स की तरह हम भी सरकार के साथ काम करेंगे और इंडस्ट्री को मजबूत करने के लिए टैरिफ में वाजिब इजाफे के साथ ही अन्य जरूरी कदम उठाएंगे। यह बढ़ोतरी इस तरह की जाएगी ताकि डेटा की खपत या इंटरनेट की पहुंच पर असर न पड़े’।

2016 के बाद पहली बार महंगे होंगे प्लान
जियो की एंट्री के तीन साल बाद यह पहली बार है जब इन तीनों कंपनियों ने अपने टैरिफ को बढ़ाने का फैसला किया है। कंपनियों को ऐवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) से ही ज्यादा फायदा होता है। सितंबर की बात करें तो इस महीने एयरटेल का ARPU 128 और वोडाफोन-आइडिया का ARPU 107 रहा। एक्सपर्ट्स का मानना है कि जियो द्वारा टैरिफ महंगे किए जाने के फैसले के दूसरी टेलिकॉम कंपनियों का बड़ी राहत मिलेगी। जियो के पास अभी 35 करोड़ सब्सक्राइबर हैं। वहीं, जियो के सस्ते प्लान्स के कारण बढ़ते सब्सक्राइबर बेस के चलते एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया को सब्सक्राइबर बेस में बड़ी कमी आने की चिंता हो रही थी।

बढ़े वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल के शेयर
दिसंबर से टैरिफ बढ़ाने के ऐलान के एक दिन बाद वोडाफोन-आइडिया के शेयर में 35% और एयरटेल के शेयर में 7% प्रतिशत का उछाल आया। गोल्डमैन सैक्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि टैरिफ में बढ़ोतरी इंडियन टेलिकॉम स्टॉक्स में निवेश का मन बनाने के लिए मौके का इंतजार कर रहे निवेशकों के लिए सकारात्मक होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि इससे वोडाफोन-आइडिया के लिए भविष्य में फंड जुटाना आसान हो जाएगा।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

‘क्या खाती हो, किसी ने पूछा’, निर्मला पर बरसे राहुल गांधी

खिजरी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने झारखंड के खिजरी विधानसभा क्षेत्र में जनसभा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)