Friday , February 21 2020
Home / राज्य / बनारस में ‘शाहीन बाग’ की तैयारी, पुलिस ने खदेड़ा

बनारस में ‘शाहीन बाग’ की तैयारी, पुलिस ने खदेड़ा

वाराणसी

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में दिल्ली के शाहीनबाग में मुस्लिम महिलाओं के चल रहे बेमियादी धरने की तर्ज पर गुरुवार को वाराणसी के बेनियाबाग के मैदान में भी एक दर्जन महिलाएं बैनर-पोस्टर लगाकर धरने पर बैठ गईं। महिलाओं के धरने पर बैठने की खबर मिलते ही पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी कई थानों की फोर्स लेकर मौके पर पहुंच गए। धरना दे रहीं महिलाओं को जब मैदान से हटाने की कोशिश की गई तो महिलाओं के समर्थन में वहां पहुंचे युवकों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। पुलिस ने आधा दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया है।

बेनियाबाग मैदान पहुंचे डीएम कौशलराज शर्मा ने धरने पर बैठीं महिलाओं से कहा कि जिला प्रशासन ने धरना-प्रदर्शन के लिए कचहरी स्थित वरुणापुल के पास जगह निर्धारित की है। निषेधाज्ञा लागू होने के कारण प्रशासन से अनुमति लेकर वहां विरोध प्रदर्शन किया जाए। डीएम के आग्रह को जब महिलाओं ने ठुकरा दिया तो मौके पर मौजूद एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने पुलिसकर्मियों से उनके बैनर-पोस्टर जब्त करने का निर्देश दिए। महिलाओं ने पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध किया।

मैदान छोड़कर भागने लगीं प्रदर्शकारी महिलाएं
महिला पुलिसकर्मियों ने धरने पर बैठी महिलाओं को जब हिरासत में लेने का प्रयास किया तो वे मैदान छोड़कर भागने लगीं। महिलाओं को भागते देखकर धरने के समर्थन में पहुंचे कुछ युवक पुलिसकर्मियों पर पत्‍थर बरसाने लगे। पुलिस ने सूझबूझ का परिचय देते हुए पथराव करने वाले युवकों की विडियोग्रॉफी कराते हुए आधा दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया।

पत्‍थरबाजों पर होगी कड़ी कार्रवाई: डीएम
डीएम कौशलराज शर्मा ने बताया कि बेनियाबाग मैदान में कुछ अराजक तत्व लोगों को भड़काकर जबरदस्ती विरोध-प्रदर्शन करने का प्रयास कर रहे थे, आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस अराजकतत्वों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा रही है। डीएम ने कहा कि वाराणसी में धारा 144 लागू है, इसलिए कहीं भी प्रदर्शन करने के लिए प्रशासन से अनुमति लेनी होगी। डीएम ने बताया कि पथराव करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बैनियाबाग मैदान अब पूरी तरह से खाली हो गया है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

‘नक्सल गढ़ से अमूल्या, FB पर भी उगला जहर’

बेंगलुरु बेंगलुरु में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ गुरुवार को एक रैली की गई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)