Home भेल न्यूज़ 35 से 36 सौ करोड़ के बीच रह सकता है भेल का...

35 से 36 सौ करोड़ के बीच रह सकता है भेल का टारगेट

0 335 views
Rate this post

भोपाल

वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए चार हजार करोड़ का टारगेट का पीछा कर रही भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड(भेल) भोपाल यूनिट 35 से 36 सौ करोड़ के बीच सिमट कर रह जायेगा। इसके पीछे जीएसटी एवं कुछ प्रायवेट कस्टमर साइटें तैयार नहीं न होना बताया जा रहा है। सलिए यह तस्वीर साफ नहीं हो पा रही है कि यूनिट 4 हजार करोड़ का आंकड़ा पार करेगी या फिर 35-36 सौ करोड़ के आंकड़ें के फेर में उलझ कर रह जायेगी। इधर प्रबंधन यह बताने तैयार नहीं है कि आखिर वह कितना टर्न ओवर कर पायेगी और कितना मुनाफा कमाएगी। पिछले वित्तीय वर्ष यह यूनिट नम्बर-1 पोजिशन पर रही थी। इस बार भी कुछ इसी तरह की कोशिशें जारी है।

रही बात भेल के अधिकारी या कर्मचारी की तो उसने वित्तीय वर्ष के अंतिम पड़ाव में लक्ष्य पाने की पूरी कोशिश कीे है। खास बात यह है कि कार्पोरेट की मंशा के मुताबिक इस यूनिट में समय पर जॉब तैयार कर, समय पर ही डिलेवरी देने में जहां सफलता तो पा ली है लेकिन कस्टमर जॉब उठाने में आनाकानी करने से इस बार भले ही 4 हजार करोड़ से ज्यादा का काम हो चुका है लेकिन टारगेट इससे कम ही होता दिखाई दे रहा है। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली में एमसीएम की बैठक के बाद 15 या 27 मई तक भेल दिल्ली कार्पोरेट कंपनी और अन्य यूनिटों के टारगेट की घोषणा कर देगा। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि अन्य यूनिटों के मुकाबले भोपाल यूनिट फिर से नंबर-1 बनी रह सकती है।

सूत्रों के मुताबिक कारखाने का हाइड्रो, टीसीबी और टीपीटीएन विभाग वित्तीय वर्ष 2017-18 में बेहतर परफार्मेंस किया है वहीं इसके लिए एसटीएम, ईएम, स्वीचगियर और फीडर्स ग्रुप ने भी पूरी मेहनत की है। ट्रांसफार्मर ब्लाक इस बार हर हाल में 23 हजार एमवीए से ज्यादा के ट्रांसफार्मर बनाने की कोशिश की है। टीपीटीएन ब्लॉक रिकार्ड 1500 से ज्यादा मोटर बना चुका हैं और इस वित्तीय वर्ष में 2500 से ज्यादा नंबर मोटर बनाने जुट गया है। यही नहीं यह विभाग करीब 475 करोड़ का टर्न ओवर कर सकता है। इसी तरह एसटीएम के पास आर्डरों की भारी कमी के बाद भी उसने 320 करोड़ का टर्न ओवर करने की खबर है।

रही बात हाइड्रो की करीब 800 करोड़ से ज्यादा का काम करने की उम्मीद दिखाई दे रही है। सूत्रों की माने तो इलेक्ट्रिकल मोटर ग्रुप 525 करोड़ , स्वीचगियर करीब 425 करोड़ और फीडर्स ग्रुप 50 करोड़ का टर्न ओवर करने जा रहा है। इसकी घोषणा जल्द ही कार्पोरेट करेगा। भेल प्रवक्ता का कहना है कि वित्तीय वर्ष 2017-18 के टर्न ओवर व प्रॉफिट की घोषणा दिल्ली से ही होगी। इन आंकड़ों की जानकारी स्थानीय यूनिट नहीं दे सकती।

सबकी नजर कंपनी के टारगेट पर
देश की महारत्न कंपनी भेल की सभी यूनिटों को मिलाकर वित्तीय वर्ष 2017-18 का टर्न ेओवर कितना रहेगा इस पर सबकी निगाहें है। कंपनी के बेहतर परफार्मेंस के लिए भेल के मुखिया जी तोड़ कोशिश कर रहे हैं। सूत्र बताते है कि कंपनी का टर्न ओवर 27 से 30 हजार करोड़ होने की उम्मीद है। कार्पोेरेट प्रबंधन ने डेढ़ माह गुजर जाने के बाद भी कंपनी का टर्न ओवर व प्रॉफिट की घोषणा नहीं की है। इसको लेकर कंपनी के कर्मचारी परेशान है। अभी भी इसकी तारीख निश्चित नहीं की है। कंपनी सूत्रों के मुताबिक इसकी घोषणा 15 से लेकर 27 मई के बीच की जा सकती है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....