Home भेल न्यूज़ भेल भोपाल यूनिट 5000 करोड़ का आंकड़ा छूने को बेताब

भेल भोपाल यूनिट 5000 करोड़ का आंकड़ा छूने को बेताब

0 484 views

भेल ने किया फस्र्ट क्वाटर में 800 करोड़ का उत्पादन

भोपाल

भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल) भोपाल यूनिट को भले ही भेल कार्पोरेट ने 4752 करोड़ का टारगेट दिया हो लेकिन इस बार वह 5000 करोड़ के आंकड़े को छूने को बेताब दिखाई दे रहा है। खबर है कि भले ही जून माह मेें अपने उत्पादन से पिछड़ गया हो फिर भी इस पहली तिमाही में यूनिट ने 800 करोड़ का उत्पादन किया हैं। यह भी अपने आप में एक रिकॉर्ड हैं।

जानकारी के मुताबिक पिछले पांच वित्तीय वर्ष में यह यूनिट 5000 करोड़ के टारगेट के आंकड़ों को पार नहीं कर पायी। नये कार्यपालक निदेशक इस आंकड़े को पार करने में सक्षम दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने पिछले वित्तीय वर्ष में कम समय मिलने के बाद भी 4042 करोड़ का न केवल टारगेट पूरा ेकिया बल्कि इस यूनिट को 658 करोड़ का रिकॉर्ड मुनाफा भी दिलाया। उस पर यहां के कर्मचारी- अधिकारी लक्ष्य हासिल करने के लिए आखरी समय में भी पूरी ताकत झोंक देते है इसलिए यह उम्मीद की जा रही है कि इस वित्तीय वर्ष में यह यूनिट 5000 करोड़ के आंकड़ों को पार कर सकती हैं।

सूत्रों का कहना है कि अप्रैल, मई और जून में यूनिट ने 800 करोड़ से ज्यादा का उत्पादन किया हैं। अकेले ट्रांसफार्मर ब्लॉक ने 203 करोड़ का टारगेट पूरा किया हैं। इस विभाग के पास भरपूर ऑर्डर हैं। इसी तरह हाईड्रो,ईएम, ट्रेक्शन , थर्मल ब्लॉकों ने भी उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हैं। हाईड्रो ब्लॉक में 172 कारोड़, ईएम ग्रुप ने 118 करोड़, थर्मल ने 106 करोड़ , ट्रेक्शन 107 करोड़, स्वीचगियर ने 81 करोड़, फीडर्स ग्रुप ने 13 करोड़ का उत्पादन किया हैं। भले ही किसी ब्लॉक ने कम-ज्यादा उत्पादन किया हो लेकिन वह अगली तिमाही में रिकॉर्ड बनाने की कोशिश करेंगे।

सूत्रों का कहना है कि भेल दिल्ली कार्पोरेट ने उत्पादन के आंकड़ों को बढ़ाने के लिए जून माह में 446 करोड़ का लक्ष्य निर्धारित किया था जिसमें 362 करोड़ ही लक्ष्य हो पाया। इसमें जून माह में ट्रांसफार्मर में 82 करोड़ का लक्ष्य दिया गया था जिसमें वह सिर्फ 80 करोड़ ही कर पाये। इसी तरह थर्मल 47 करोड़, हाईड्रो 90 करोड़, ईएम 50 करोड़, ट्रेक् शन 57 करोड़, स्वीचगियर 31 ेकरोड़, फीडर्स 7 करोड़ का उत्पादन कर पाया। अगली तीन तिमाही में यूनिट के सभी ब्लॉक बेहतर परफार्मेंस कर पाये तो यह यूनिट पहली बार 5000 करोड़ का आंकड़ा पार करने में कामयाब हो सकती हैं।

पिछले पांच वित्तीय वर्ष के आंकड़े
वर्ष उत्पादन प्रॉफिट
2012-13 4766 689
2013-14 4592 618
2014-15 3678 264
2015-16 3923 487
2016-17 4042 658

भेल को मिला सुरक्षा अवार्ड
प्रतिष्ठित नेक्स्ट सीएसओ नेशनल अवार्ड ने 24 असाधारण व्यक्तियों को सम्मानित किया है जिनके पास इनफार्मेशन सिक्योरिटी की जिम्मेदारी संभालने की क्षमता, कौशल और प्रतिभा हो। डीके ठाकुर ईडी, ने एक समारोह में संजीव गुप्ता जीएम, एनपी सनोडिया एजीएम और एसएन श्रीवास्तव उप महाप्रबंधक की उपस्थिति में श्रीमती शिखा सक्सेना को पुरस्कार प्रदान किया। श्रीमती शिखा सक्सेना, सीनियर मैनेजर, आईटीएस, भेल को भारत के शीर्ष सीआईएसओ की उपस्थिति में इनफार्मेशन सिक्योरिटी शिखर सम्मेलन, जयपुर में चीफ सूचना सुरक्षा अधिकारी,सीएसओ पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। बीएचईएल को पहली बार भारत के सार्वजनिक और निजी संगठनों 70 कम्पनियों के उम्मीदवारों से कड़ी प्रतियोगिता में यह पुरस्कार मिला है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....