Home खेल CWG: किदाम्बी श्रीकांत ने जीता सिल्वर मेडल

CWG: किदाम्बी श्रीकांत ने जीता सिल्वर मेडल

0 30 views
Rate this post

नई दिल्ली

21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में बैडमिंटन के पुरुष एकल के फाइनल मुकाबले में किदाम्बी श्रीकांत को सिल्वर मेडल मिला। गोल्ड मेडल के लिए हुए मुकाबले में उन्हें 3 बार के ओलिंपिक चैंपियन मलयेशिया के ली चोंग वेई से हार का सामना करना पड़ा। श्रीकांत ने इससे पहले मिश्रित टीम चैंपियनशिप में ली को हराया था, लेकिन विश्व का पूर्व नंबर एक खिलाड़ी ने यहां जीत दर्ज करके बदला चुकता करने में सफल रहा।

मैच में पहला गेम श्रीकांत ने जीता था, लेकिन दूसरे और तीसरे गेम में उन्हें हारकर गोल्ड मेडल जीतने का मौका गंवाना पड़ा। मैच का स्कोर 21-19, 14-21 और 14-21 से चोंगे वेई के पक्ष में रहा। इससे पहले साइना नेहवाल ने महिला एकल में अपने ही देश की स्टार शटलर पीवी सिंधु को हराकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

पहला गेम: श्रीकांत ने जीता पहला गेम
पहले गेम में पूर्व वर्ल्ड नंबर वन ली चोंग वेई और श्रीकांत के बीच एक-एक पॉइंट के लिए जोरदार टक्कर देखने को मिली। भारतीय खिलाड़ी ने इस गेम में अच्छी शुरुआत की थी। विपक्षी खिलाड़ी के कई दिशाहीन शॉट्स ने भी श्रीकांत को फायदा पहुंचाया। खासकर, श्रीकांत के स्पिन और ड्रॉप जोरदार रहे। वर्ल्ड नंबर वन भारतीय शटलर श्रीकांत ने 21-19 से जीत दर्ज की। इस तरह श्रीकांत ने 1-0 की लीड ले ली।

दूसरा गेम: ली चोंग वेई का कमबैक
पहला गेम गंवाने के बाद मलयेशियाई शटलर ने दूसरे गेम में जबरदस्त वापसी करते हुए जीत दर्ज की। वेई ने के बेहतरीन स्मैश का श्रीकांत के पास कोई जबाव नहीं था। ली ने 5-4 की बढ़त ले ली थी। देखते ही देखते उनकी बढ़त 7-13 की हो गई। वेई के शॉट रिटर्न करने में श्रीकांत कई बार गलती की, जिसका खामियाजा उन्हें पॉइंट देकर चुकाना पड़ा। जब स्कोर 18-14 हुआ तो लगा कि श्रीकांत वापसी करेंगे। लेकिन, वेई ने ऐसा होने नहीं दिया और लगातार 3 पॉइंट लेकर दूसरा गेम 21-14 से अपने नाम कर लिया। दोनों खिलाड़ी अब 1-1 की बराबरी पर आ गए थे। यह गेम 21 मिनट तक चला।

तीसरा गेम: ली चोंग वेई की एकतरफा जीत
मलयेशियाई खिलाड़ी तीसरे गेम में पहले और दूसरे की अपेक्षा अधिक आक्रामकता दिखाई। उन्होंने शुरुआत में ड्रॉप शॉट और नेट शॉट से पॉइंट जुटाते हुए बढ़त 7-1 कर ली। श्रीकांत ने वापसी करने की कोशिश की, लेकिन ली ने 12-7 की बढ़त बना ली। कुछ देर में बढ़त 14-7 हो गई। इस गेम में काफी कुछ दूसरे गेम जैसा ही रहा। तीसरे गेम में श्रीकांत लगातार पिछड़ रह थे। ली की बढ़त 18-11 की हो गई थी। यह गेम भी वेई ने 21 मिनट में 21-14 से अपने नाम किया।

सेमीफाइनल का रोमांच
इससे पहले विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर पहुंचे किदाम्बी श्रीकांत ने पुरुष एकल में 2010 राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता इंग्लैंड के राजीव ओसेफ को 21-10 , 21-17 से हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। वहीं दूसरी ओर, 3 बार के ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट ली चोंग वेइ ने दूसरे सेमीफाइनल में भारत के एच एस प्रणय को 21-16, 9-21, 21-14 से मात दी थी।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....